Analysis Report: देश में 12 दिन में 50 हजार से एक लाख हुई Corona मरीजों की संख्या

कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 39 फीसदी पहुंचा

विकास सिंह

मंगलवार, 19 मई 2020 (12:33 IST)
देश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या एक लाख का आंकड़ा पार कर गई है। कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार एक के बाद एक लॉकडाउन की किश्तें जारी करती गई ह लेकिन कोरोना संक्रमण थमने के बजाए बढ़ता गया। हालात ये हैं कि देश में 12 दिन में कोरोना मरीजों की संख्या 50 हजार से बढ़कर एक लाख तक पहुंच गई है। 
 
अब देश में 24 घंटे में 5 हजार के करीब नए केस रिपोर्ट हो रहे है जो स्थिति के खतरनाक होने का इशारा भी कर रहे है। देश में कोरोना मरीजों की संख्या एक लाख एक हजार 139 है, पिछले 24 घंटे में देश में 4970 मामले सामने आए है।
 
अगर आंकड़ों को देख जाए तो देश में 12 दिन में कोरोना मरीजों की संख्या पचास हजार से बढ़कर एक लाख तक पहुंच गई है। 6 मई को देश में कोरोना मरीजों की संख्या 49391 थी जो अब बढ़कर 101139 हो गई है। इसे साथ ही गौर करने वाली बात यह भी है कि देश में पिछले दस दिनों में कोरोना मरीजों की संख्या 5 फीसदी से  अधिक रफ्तार से आगे बढ़ रही है।
 
कोरोना पॉजिटिव मरीजों के आंकड़ों का विश्लेषण करें तो बीते पांच दिनों में यानि 19 मई को 4970 मामले,18 मई को 5242,17 मई को 4987 मामले,16 मई को 3970 मामले,15 मई को 3967 मामले सामने आए है।   
 
राहत की बात यह है कि जैसे कोरोना के मामले बढ़ रहे है वैसे देश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का रिकरवी रेट में भी इजाफा हो रहा है। वर्तमान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का रिकवरी रेट 39 फीसदी से अधिक हो गया है। देश में अब तक प्रति लाख जनसंख्या पर लगभग 7.1 फीसदी मामले है। वर्तमान में 39174 कोरोना संक्रमित स्वस्थ हो चुके है। पिछले 24 घंटों में 2350 मरीज स्वस्थ हुए है।  
मध्यप्रदेश में कोरोना की स्थिति - मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या 5236 तक पहुंच गई है। वहीं बीमारी की चपेट में आए 2435 मरीज स्वस्थ हो चुके है। चौथे चरण के लॉकडाउन की गाइडलाइन का एलान करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  प्रदेश में काफी हद तक कोरोना को नियंत्रित करने में सफल रहे हैं।
 
मध्यप्रदेश में कोरोना प्रकरणों के दोगुना होने की दर जो एक अप्रैल को 3 दिन थी, वह एक मई को बढ़कर 14  दिन हो गई और वर्तमान में यह दर 17.2 दिन है, जो कि जल्दी ही 20 दिन हो जाएगी।
 
इसके साथ ही कोरोना के मरीजों का रिकवरी रेट जो एक मई को 19.03  प्रतिशत थी, वह 18 मई को बढ़कर 46  प्रतिशत से अधिक हो गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि खतरा अभी टला नहीं है, अभी पूरी सावधानी एवं सतर्कता की आवश्यकता है। प्रदेश के 9 जिले आज कोरोना से मुक्त हो गए है। जहां लोगों ने सावधानी बरती वहां कोरोना को काबू में कर लिया गया है, लेकिन जहां लोग सावधान नहीं रहे वहां एक केस से सौ केस होने में देर नहीं लगी।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख जानें, दो बोगी के बीच बच्चे को गोद में लेकर सफर करती मां के वीडियो का सच क्या है