Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह पर CM शिवराज,बोले अप्रैल गंभीर संकट का महीना,लॉकडाउन विकल्प नहीं

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
webdunia

विकास सिंह

मंगलवार, 6 अप्रैल 2021 (13:55 IST)
भोपाल। कोरोना के बढ़ते हुए संक्रमण को रोकने के लिए और मास्क के प्रति समाज को जागरुक करने के लिए  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 24 घंटे का स्वास्थ्य आग्रह शुरु कर दिया है। राजधानी के मिंटो हाल में गांधी प्रतिमा के बगल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 24 घंटे का स्वास्थ्य आग्रह शुरु करते हुए लोगों से मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने की अपील की।
 
इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अप्रैल का महीना गंभीर संकट का महीना है इसलिए सभी को एकजुट होकर इसके लिए आगे आना होगा और कोरोना से मुकाबला करना होगा। उन्होंने लोगों से कोरोना स्वयंसेवक बनकर आगे आकर अभियान से जुड़ने की अपील की। 
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि संक्रमण बढ़ने से अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। अस्पतालों में बिस्तर आदि की व्यवस्थाएं सरकार कर रही है लेकिन लोगों को जागरूक रहने की आवश्यकता है। संक्रमण को रोकने का एक उपाय है लॉकडाउन लेकिन लॉकडाउन लोगों का रोजगार छीन लेगा इसलिए मैं इस तरीके को सही नहीं मानता,सीमित लॉकडाउन ठीक है।
webdunia

वहीं संक्रमण रोकने का दूसरा तरीका है आज अनुशासन हम मास्क लगाएं हम सुरक्षित दूरी बनाए हम हम बार-बार हाथ धोते रहें। हम वैक्सीन लगवाए और इसके लिए समाज का सहयोग चाहिए। अगर कोई मास्क नहीं लगाता तो वह अपराध करता है। आपराधिक दृष्टिकोण से केवल उसका स्वास्थ्य प्रभावित नहीं होता बल्कि उससे लोगों का भी स्वास्थ्य प्रभावित होता है और यह फीलिंग आए कि मास्क नहीं लगाना गलत है और और लोगों के मन में यह भावना जागृत हो कि मैं मास्क लगा लगाऊं।

मास्क को लेकर लोगों पर नैतिक दबाव बनाने,सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने,स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने,कोरोना वैक्सीन लगाने और कोरोना के प्रति समाज लड़े इसका आग्रह करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार 24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह पर बैठे है इस दौरान मुख्यमंत्री ने मास्क का अर्थ बताते हुए कहा कि M (मेरा),A (आपका),S (सुरक्षा),K (कवच) है,इसलिए मास्क नहीं तो बात नहीं और मास्क नहीं तो सामान नहीं यह अभियान मैं चला रहा हूं। 
 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
दुर्लभ रोगों के लिए राष्ट्रीय नीति को मिली स्वीकृति