Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

भोपाल : बुधवार को कोरोना प्रोटोकॉल के मुताबिक 137 शवों का हुआ अंतिम संस्कार

webdunia
गुरुवार, 22 अप्रैल 2021 (23:35 IST)
भोपाल (मध्यप्रदेश)। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित 2 विश्रामघाट (श्मशान घाट) एवं एक कब्रिस्तान में बुधवार को 137 शवों का अंतिम संस्कार कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 के प्रोटोकॉल के मुताबिक किया गया, जबकि उस दिन भोपाल जिले में सरकारी आंकड़ों के अनुसार मात्र 5 लोगों की ही मौत इस महामारी से बताई गई है।

भोपाल स्थित इन दो विश्रामघाटों एवं एक कब्रिस्तान के रिकॉर्ड के अनुसार इनमें बुधवार को कुल 187 लोगों का अंतिम संस्कार किया गया। इनमें से 137 शवों का अंतिम संस्कार कोविड-19 के प्रोटोकॉल के मुताबिक किया गया। हालांकि बुधवार शाम को जारी मध्य प्रदेश सरकार की कोविड-19 बुलेटिन के अनुसार 24 घंटे के दौरान भोपाल में पांच लोगों की मौत कोरोनावायरस संक्रमण से हुई।

भदभदा विश्राम घाट प्रबंधन समिति के सचिव मम्तेश शर्मा ने बताया, भदभदा विश्राम घाट में बुधवार को कुल 111 शवों का अंतिम संस्कार किया। इनमें से 92 शवों का अंतिम संस्कार कोविड-19 के प्रोटोकॉल के मुताबिक किया गया।

उन्होंने कहा कि जिन 92 शवों का अंतिम संस्कार कोविड-19 के प्रोटोकॉल के मुताबिक किया गया, उनमें से 61 भोपाल के निवासी थे, जबकि 31 अन्य जिलों के थे। भदभदा विश्राम घाट प्रदेश की राजधानी भोपाल में हिन्दुओं के बड़े श्मशान घाटों में से एक है।

शर्मा ने बताया कि जो लोग अन्य जिलों से भोपाल में इलाज करवाने आते हैं और उपचार के दौरान उनकी मौत होने पर उनका अंतिम संस्कार भोपाल में ही किया जा रहा है। कोरोना के लिए बनाए गए दिशा निर्देशों के अनुसार उनके शवों को दूसरे जिले में नहीं ले जाया जा सकता है।
ALSO READ: खुशखबर, हर तरह के Coronavirus पर असरदार साबित हो सकता है नया टीका! सिर्फ 75 रुपए रहेगी एक डोज की कीमत
उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस महामारी से पहले भदभदा विश्राम घाट में प्रतिदिन करीब 10 से 12 शव ही अंतिम संस्कार के लिए लाए जाए जाते थे। भोपाल में भदभदा विश्राम घाट, सुभाष नगर विश्राम घाट एवं झदा कब्रिस्तान जहांगीराबाद में ही कोविड-19 के मरीजों का अंतिम संस्कार करने की अनुमति है।
ALSO READ: Coronavirus वैक्सीनेशन के लिए बहुत ही आसान है रजिस्ट्रेशन, जानिए पूरी प्रक्रिया...
वहीं शहर के सुभाष नगर विश्राम घाट के प्रबंधक शोभराज सुखवानी ने बताया कि इस विश्राम घाट में बुधवार को 56 शवों का अंतिम संस्कार किया गया। उन्होंने कहा, इन शवों में से 31 शवों का अंतिम संस्कार कोविड-19 के प्रोटोकॉल के मुताबिक किया गया, जिनमें से 20 भोपाल के रहने वाले थे एवं बाकी 11 अन्य जिलों के थे।
ALSO READ: Coronavirus की चपेट में आए राजनीति के ये 10 दिग्गज
झदा कब्रिस्तान जहांगीराबाद के प्रबंधन समिति के अध्यक्ष रेहान गोल्डन ने बताया, बुधवार को हमारे (मुस्लिम) कब्रिस्तान में कुल 20 शव दफनाए गए। इनमें से 14 को कोविड-19 के प्रोटोकॉल के मुताबिक दफनाया गया, ये सभी लोग भोपाल के निवासी थे।

भोपाल जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रभाकर तिवारी से कोविड-19 के मौतों के कम आंकड़ों एवं भारी तादाद में शवों के बारे में प्रतिक्रिया जानने के लिए फोन पर संपर्क किया गया, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

West bengal : चुनाव प्रचार पर निर्वाचन आयोग का बड़ा फैसला, रोड शो, वाहन रैलियों पर लगाया प्रतिबंध, जनसभा में सिर्फ 500 लोगों को अनुमति