Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कोरोना से जंग में आयुर्वेद ने जगाई उम्मीद, 4 माह में 58 परीक्षणों का पंजीकरण

webdunia
गुरुवार, 1 अक्टूबर 2020 (08:01 IST)
नई दिल्ली। आयुष मंत्रालय ने कहा कि क्लीनिकल ट्रायल रजिस्ट्री ऑफ इंडिया में एक मार्च से 25 जून के बीच कोविड-19 के लिए आयुर्वेद से जुड़े 58 नए प्रायोगिक परीक्षणों का पंजीकरण हुआ। यह राष्ट्र स्तर पर आयुष क्षेत्र में तथ्य आधारित अध्ययनों के बढ़ते रूझान को दिखाता है।
 
मंत्रालय के अनुसार, इस साल अगस्त में आयी खबरों में कहा गया था कि 'निकल ट्रायल रजिस्ट्री ऑफ इंडिया (CTRI) में पंजीकृत 203 प्रायोगिक परीक्षणों में 61.5 प्रतिशत आयुष विषय के थे।
 
मंत्रालय ने कहा कि इन परीक्षणों से शोधकर्ताओं को भविष्य के अगले कदम को लेकर रणनीति बनाने में मदद मिलेगी और लोगों को कोविड-19 को रोकने में आयुर्वेद की अहमियत का भी पता चलेगा।
 
मंत्रालय ने कहा कि परीक्षण पूरा हो जाने पर परिणाम का जल्द से जल्द प्रकाशन किया जाएगा ताकि नीति-निर्माताओं को इसका फायदा मिले। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

COVID19 : राजस्थान में 2 अक्टूबर से शुरू होगा Corona के विरुद्ध जन आंदोलन