Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मास्क लगाएं जिससे लॉकडाउन की नौबत नहीं आए, बोले शिवराज, बचाव के संकल्प के लिए बजा सायरन

कोरोना से बचाव के लिए संकल्प का बजा सायरन, मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का दिया संदेश

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
webdunia

विकास सिंह

मंगलवार, 23 मार्च 2021 (11:45 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क के प्रति जागरुकता और सतर्कता,सजगता और सावधानी बरतने के लिए आज से जनजागरण अभियान शुरू हो गया है। अभियान का शुभारंभ खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भवानी चौक पर पहुंचकर किया। पुराने भोपाल के भवानी चौक पर हुए मुख्य कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सफेद गोले में खड़े होकर लोगों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग करने का संकल्प दिलाया।
 
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। आज प्रदेश में 1500 से अधिक कोरोना संक्रमित केस सामने आए है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना एक गंभीर संकट की ओर बढ़ रहा है। इसलिए वह सभी प्रदेशवासियों से विन्रम अपील कर रहे मास्क को मजाक न समझे और संकमण से बचने के लिए मास्क लगाए। उन्होंने कहा कि  जो मास्क नहीं पहन रहे है तो आप अपने परिवार और समाज के लिए खतरा पैदा कर रहे है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह नहीं चाहते हैं कि प्रदेश में लॉकडाउन लगाया जाए। उन्होंने कहा कि हम सबकी जिम्मेदारी है कि मास्क को लेकर सावधानी रखें जिससे प्रदेश में फिर से लॉकडाउन लगाने की नौबत आए। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर हम मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर लापरवाही बरतेंगे तो मजबूर होकर हमको फिर लॉकडाउन की ओर जाना पड़ेगा, जो मैं नहीं चाहता हूं।

इसके बाद मुख्यमंत्री सोशल डिस्टेंसिंग का संदेश देने के लिए दुकानों पर पहुंचकर सोशल डिस्टेंसिग के लिए गोले बनवाए। आज से पूरे प्रदेश में ‘मेरा मास्क मेरी सुरक्षा’ और रोको टोको अभियान शुरू किया गया है। अभियान के तहत एक हफ्ते तक हर दिन सुबह 11 बजे और शाम 7 बजे सायरन बजाकर लोगों को जागरूक किया जाएगा।
 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
CoronaVirus : देश में लगातार चौथे दिन 40,000 से ज्यादा मामले, इन 10 राज्यों में सबसे ज्यादा कहर...