Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

फिर डरावनी हुई कोरोना की रफ्तार! महाराष्ट्र में बना रिकॉर्ड तो दिल्ली में 1200 से ज्यादा नए केस, केंद्र ने कहा हालात गंभीर

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
बुधवार, 24 मार्च 2021 (22:18 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना की रफ्तार थम नहीं रही है। महाराष्ट्र में बुधवार को एक दिन में कोरोनावायरस संक्रमण के अब तक सबसे अधिक 31,855 नए मामले सामने आए। संक्रमितों की संख्या अब बढ़कर 25,64,881 हो गई है। इससे पहले राज्य में 21 मार्च को संक्रमण के सबसे अधिक 30,535 मामले सामने आए थे।
 
93 और रोगियों की मौत के बाद मृतकों की कुल संख्या 53,684 हो गई है। दिनभर में 15,098 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या 22,62,593 हो गई है। राज्य में उपचाराधीन रोगियों की संख्या 2,47,299 है। मुंबई में कोरोनावायरस संक्रमण के एक दिन में सबसे अधिक 5,190 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 3,74,641 हो गई है। अब तक 11,610 रोगियों की मौत हो चुकी है।
दिल्ली में भी टूटा रिकॉर्ड : दिल्ली में बुधवार को कोरोनावायरस संक्रमण के 1,254 नए मामले सामने आए जो कि पिछले तीन महीने से भी अधिक समय में प्रतिदिन सामने आने वाले मामलों की सबसे ज्यादा संख्या है। स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। विभाग ने कहा कि महामारी से छह और मरीजों की मौत हो गई। अभी 4,890 मरीजों का इलाज चल रहा है।  संक्रमण के नए मामले सामने आने के बाद कुल मामले बढ़कर 6,51,227 हो गए और अब तक 6.35 लाख लोग ठीक हो चुके हैं।
 
कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि को देखते हुए दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने मंगलवार को आदेश दिया कि होली और नवरात्रि के दौरान सार्वजनिक तौर पर उत्सव मनाने पर पाबंदी लगा दी गई है।
webdunia
केंद्र ने जताई चिंता : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि महाराष्ट्र और पंजाब में कोविड-19 के मामलों में भारी वृद्धि ‘गंभीर चिंता’ का विषय है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि केंद्र ने महाराष्ट्र और पंजाब के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ मामलों में बढ़ोतरी से निपटने के लिए रणनीति को और दुरूस्त करने को लेकर बैठक की है।
 
उन्होंने कहा कि दोनों राज्य गंभीर चिंता का विषय है जहां हाल ही मामलों में भारी वृद्धि देखी गयी है। पहला महाराष्ट्र है और दूसरा पंजाब है। संक्रमण के लिहाज से शीर्ष पांच जिलों में पुणे, नागपुर, मुम्बई, ठाणे और नासिक शामिल हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब चिंता का विषय इसलिए है क्योंकि नये मामलों की संख्या उसकी जनसंख्या की तुलना में गैर आनुपातिक है।
 
भूषण ने कहा कि अन्य राज्य भी है जो चिंता के कारण हैं और वे गुजरात, मध्यप्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु एवं चंडीगढ़ (केंद्रशासित प्रदेश) हैं जहां कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़े हैं। गुजरात में रोज कोरोना वायरस के करीब 1700 नये मरीज सामने आ रहे हैं जबकि मध्यप्रदेश में रोजाना आंकड़ा करीब 1500 का है।
ALSO READ: सलमान खान ने ली कोविड 19 रोधी टीके की पहली खुराक
गुजरात के सूरत, अहमदाबाद, वड़ोदरा, राजकोट और भावनगर तथा मध्यप्रदेश के भोपाल, इंदौर, जबलपुर, उज्जैन और बेतुल में अधिक मामले सामने आ रहे हैं। नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वीके पॉल ने महाराष्ट्र, पंजाब और गुजरात समेत कुछ राज्यों में मामले बढ़ने पर इस महामारी के बारे में चिंता प्रकट की। उन्होंने कहा कि हमें इस दूसरी लहर से निपटना होगा। उन्होंने संक्रमण रोकने के लिए कोविड-19 संबंधी आचरण के पालन और टीकाकरण पर बल दिया।
 
पॉल ने कहा कि मास्क दुनिया में सबसे अच्छा और प्रभावी टीका है, तो हम लापरवाह क्यों हो रहे हैं। कृपया अपनी जांच कराइए, जहां जांच कम हो रही हैं, वहां संक्रमण दर बढ़ रही है। आबादी के बड़े हिस्से पर संक्रमण का खतरा है।
 
कर्नाटक और तमिलनाडु में हाल ही में मामले बढ़े हैं। कर्नाटक में रोजाना करीब 2000 और तमिलनाडु में करीब 1400 मामले सामने आ रहे हैं। भूषण ने कहा कि कोविड-19 के करीब तीन फीसद उपचाराधीन मामले हैं और ये महाराष्ट्र के नौ और कर्नाटक के एक जिले में संकेंद्रित हैं।
पुणे और हरियाणा में पाबंदियां : कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर महाराष्ट्र के पुणे जिले और हरियाणा में सार्वजनिक स्थलों पर होली के समारोहों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पुणे के जिला प्रशासन ने बुधवार को कहा कि संक्रमण के प्रतिदिन सामने आ रहे मामलों को देखते हुए सार्वजनिक और निजी स्थल पर होली समारोहों पर प्रतिबंध रहेगा।
 
जिला कलेक्टर राजेश देशमुख ने एक आदेश में कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के मद्देनजर होटल, रिजॉर्ट और ग्रामीण इलाकों जैसे सार्वजनिक स्थान और आवासीय परिसरों में होली समारोहों पर पाबंदी लगाई गई है। पुणे नगर निकाय ने भी रिजॉर्ट, होटल और खुले स्थानों व आवासीय परिसरों में समारोहों पर प्रतिबंध लगाया है।

इसके साथ ही हरियाणा सरकार ने भी बुधवार को कहा कि संक्रमण के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर सार्वजनिक तौर पर होली मनाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। गृह तथा स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने ट्वीट किया कि हरियाणा सरकार ने कोरोना के मद्देनजर होली का त्योहार सार्वजनिक तौर पर मनाने पर रोक लगाई है। इस वर्ष होली का त्योहार 29 मार्च को है।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
Fact Check: क्या गणपति की शक्ल वाले बच्चे ने लिया जन्म? जानिए वायरल PHOTO का पूरा सच