Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

COVID-19 : भारत में 16 करोड़ से अधिक नमूनों की जांच, 29 दिनों में 90 लाख से 1 करोड़ हुई संक्रमितों की संख्‍या

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 19 दिसंबर 2020 (19:15 IST)
नई दिल्ली। देश में बीते 24 घंटों में 11 लाख से अधिक नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है जिसके साथ देश में अब तक इस जांच से गुजरने वाले नमूनों की कुल संख्या 16 करोड़ से अधिक हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय की ओर से जारी किए गए वक्तव्य में कहा गया कि निरंतर एवं व्यापक जांच से संक्रमण की दर कम हो रही है। 
 
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार बीते 24 घंटों में 11,71,868 नमूनों की कोविड-19 की जांच की गई जिसके साथ भारत में इस महामारी का पता लगाने के लिए अब तक कुल 16,00,90,514 नमूनों की जांच हो चुकी है। इसमें बताया गया कि देश में संक्रमण की दर 6.25 फीसदी है तथा भारत की दैनिक जांच क्षमता बढ़ाकर 15 लाख की गई है।
 
भारत में करीब एक महीने के भीतर कोरोनावायरस संक्रमण के 10 लाख मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या शनिवार को 1 करोड़ से अधिक हो गई जबकि संक्रमण से उबर चुके लोगों की कुल संख्या भी बढ़कर 95.50 लाख हो गई है।
मंत्रालय ने यह भी बताया कि बीते 24 घंटों में भारत में ठीक होने वाले लोगों की संख्या संक्रमण के नए मामलों से अधिक है। इसके परिणामस्वरूप उपचाराधीन मामलों की संख्या भी कम हो रही है और आज यह आंकड़ा 3,08,751 है।
 
शनिवार सुबह 8 बजे तक जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार संक्रमितों की कुल संख्या 1,00,04,599 हो गई है। 24 घंटे के दौरान 347 रोगियों की मौत के बाद मृतकों की कुल संख्या 1,45,136 हो गई है। (भाषा)
29 दिन में 90 लाख से एक करोड़ हुए कोरोना के मामले : देश में कोरोनावायरस संक्रमण की रफ्तार अपेक्षाकृत धीमी पड़ने से इसके अंतिम 10 लाख मामलों की वृद्धि होने में 29 दिन का समय लगा जो जुलाई के बाद सर्वाधिक है। कोरोना संक्रमण के मामले 20 नवंबर को 90 लाख के पार पहुंचे थे और 29 दिन बाद 19 दिसंबर को यह आंकड़ा एक करोड़ से अधिक हो गया।
इससे पहले 80 से 90 लाख मामले होने में 22 दिन का समय लगा था। देश में कोविड-19 संक्रमण का पहला मामला 30 जनवरी को सामने आया था। कोरोना संक्रमितों की संख्या पहले 10 लाख तक पहुंचने में 169 दिन लगे और 17 जुलाई को यह 10,03,832 पर पहुंचा लेकिन इसके बाद संक्रमण में इतनी तेजी आई कि एक समय महज 11 दिन में 10 लाख लोग इसकी चपेट में आ गए थे।
 
कोरोना संक्रमण के मामले दस से 20 लाख तक पहुंचने में 21 दिन का समय लगा था वहीं 20 से 30 लाख तक पहुंचने में 16 दिन, 30 से 40 लाख में 13 दिन, 40 से 50 लाख में 11 दिन, 50 से 60 लाख 12 दिन, 60 से 70 लाख में 13 दिन, 70 से 80 लाख में 18 दिन और 80 से 90 लाख तक पहुंचने में 22 दिन लगे थे।
 
केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से शनिवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोनामुक्त होने वालों की संख्या 95.50 लाख तथा रिकवरी दर बढ़कर 95.46 प्रतिशत हो गई है। सक्रिय मामले 3.08 लाख पर आ गए हैं और इसकी दर 3.09 प्रतिशत रह गई तथा मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,45,136 हो गया है और मृत्यु दर अभी 1.45 फीसदी है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पाक गोलाबारी की आड़ में कश्मीर में घुसे आतंकी, सेना की नाकेबंदी