Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

COVID-19 in Delhi : दिल्ली में Corona से 91 और लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 5.51 लाख के पार

webdunia
गुरुवार, 26 नवंबर 2020 (22:37 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली में एक दिन में कोरोनावायरस (Coronavirus) के 5475 नए मामले सामने आए, वहीं 91 और लोगों की संक्रमण से मृत्यु के बाद गुरुवार को मृतक संख्या 8,811 पहुंच गई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि राजधानी में एक दिन में 28,000 से ज्यादा आरटी-पीसीआर जांच की गईं। संक्रमण की दर 8.65 प्रतिशत रही, जो बुधवार को 8.49 प्रतिशत थी। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली में 28,897 नमूनों की आरटी-पीसीआर जांच के साथ ही कुल 63,266 नमूनों का परीक्षण किया गया। यह अब तक की सर्वाधिक जांच संख्या है।

दिल्ली में 11 नवंबर को संक्रमण के सर्वाधिक मामले आए थे और 8,593 लोग संक्रमित मिले थे, वहीं 18 नवंबर को कोविड-19 से 131 लोगों की मृत्यु हो गई थी, जो राजधानी में एक दिन में संक्रमण से मौत का सर्वाधिक आंकड़ा है।

बुलेटिन के अनुसार, गुरुवार को कोरोनावायरस के मामलों की कुल संख्या 5,51,262 पहुंच गई, जिनमें से अब तक 5,03,717 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। दिल्ली में इस समय 38,734 मरीजों का उपचार चल रहा है। इलाज करा रहे संक्रमितों की संख्या बुधवार को 38,287 थी।

60 अस्पतालों में कोई बेड खाली नहीं : दिल्ली में कोरोनावायरस से संक्रमण के मामलों और मृत्यु दर में वृद्धि होने के बीच नगर में गुरुवार को वेंटिलेटर से लैस उपलब्ध गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) बेड की संख्या घटकर 205 रह गई वहीं कम से कम 60 अस्पतालों में कोई बेड खाली नहीं है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने ट्विटर पर कहा कि पिछले 15 दिनों में दिल्ली के अस्पतालों में कोविड मरीजों के लिए 1359 आईसीयू बेड सहित 2080 बेड बढ़ाए गए हैं। ट्वीट में दिए गए आंकड़ों के अनुसार वेंटिलेटर के साथ 211 आईसीयू बेड बढ़ाए गए हैं और इस तरह के बेडों की कुल संख्या 1,264 से बढ़कर 1,475 हो गई है।

दिल्ली सरकार के ‘ऑनलाइन कोरोना डैशबोर्ड’ के अनुसार गुरुवार शाम 5.10 बजे, शहर में वेंटिलेटर वाले 205 कोविड आईसीयू बेड खाली थे। जिन अस्पतालों में कोई स्थान खाली नहीं है, उनमें बेस अस्पताल दिल्ली कैंट, उत्तर रेलवे अस्पताल, सर गंगाराम अस्पताल, बत्रा अस्पताल, विम्हांस और इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल शामिल हैं।

शहर में कोविड-19 का इलाज मुहैया कराने वाले 100 से अधिक अस्पतालों में, कम से कम 30 में पांच से कम खाली बेड हैं। इनमें लोक नायक अस्पताल, राममनोहर लोहिया अस्पताल, दीपचंद बंधु और मैक्स स्मार्ट गूजरमल मोदी अस्पताल शामिल हैं।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

प्रधानमंत्री मोदी बोले- 'एक राष्ट्र, एक चुनाव' देश की जरूरत