Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

भारत की मदद को भूली नहीं हैं विदेशी शक्तियां, अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस सहित कई देश आए आगे

webdunia
बुधवार, 28 अप्रैल 2021 (00:09 IST)
लंदन/ वॉशिंगटन। कोरोनावायरस की दूसरी तेज लहर का सामना कर रहे भारत में दुनिया के कई देशों से आवश्यक चिकित्सकीय सामानों की खेप की आपूर्ति शुरू हो गई है। दुनिया के शक्तिशाली देशों के साथ ही छोटे देश भी सहायता के लिए आगे आए हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय का कहना है कि पिछले वर्ष भारत ने जिस तरह से दूसरे देशों की मदद की थी, अब उसी तरह दुनिया के देश सामने आ रहे हैं।

 
भारत कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहा है और पिछले कुछ दिनों से रोज संक्रमण के 3 लाख से ज्यादा मामले आ रहे हैं तथा कई शहरों में चिकित्सकीय ऑक्सीजन और बेड की किल्लत पैदा हो गई है। ब्रिटेन से 100 वेंटिलेटर और 95 ऑक्सीजन संकेद्रक की खेप मंगलवार सुबह नई दिल्ली पहुंच गई।

 
ब्रिटेन सरकार के सूत्रों ने बताया कि इस सप्ताह 495 ऑक्सीजन संकेद्रक, 120 'नॉन इनवेसिव वेंटिलेटर' और 20 'मैनुअल वेंटिलेटर' समेत जरूरी सामानों की आपूर्ति होगी। ऑस्ट्रेलिया भी 500 वेंटिलेटर, 10 लाख सर्जिकल मास्क, 5 लाख सुरक्षात्मक मास्क, चश्मे और फेस शील्ड की आपूर्ति करेगा। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के कार्यालय ने कहा है कि जरूरी सामानों की खेप इस सप्ताह पहुंच जाएगी। इसके तहत 8 ऑक्सीजन जेनरेटर भी होंगे। प्रत्येक जेनरेटर से 1 अस्पताल में 250 बेड के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति हो सकेगी।
 
अमेरिका में जो बाइडन प्रशासन कोविड-19 महामारी से निपटने में भारत की मदद के लिए नौकरशाही की सभी बाधाओं को खत्म करते हुए 'मिशन मोड' में काम कर रहा है। अमेरिकी सरकार के अंतर्गत रक्षा मंत्रालय, स्वास्थ्य और मानव संसाधन विभाग, विदेश विभाग, यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी) और अमेरिकी व्यापार के प्रतिनिधि भारत की जरूरतों को चिह्नित करने के साथ नौकरशाही की सभी बाधाओं को दूर कर जल्द से जल्द सभी चिकित्सकीय सामानों की आपूर्ति सुनिश्चित करने में जुटे हैं।

 
भूटान भी भारत को जीवनरक्षक तरल ऑक्सीजन की आपूर्ति करेगा। संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष ने कहा है कि दुनिया के लिए यह मदद करने और भारत का समर्थन करने का समय है जिसने कई देशों को कोविड-19 रोधी टीके की आपूर्ति की थी। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र के अध्यक्ष वोल्कन बोजकिर ने मंगलवार को ट्वीट किया कि भारत में कोविड-19 की स्थिति से मैं चिंतित हूं।

webdunia


भारत ने संक्रमण से जूझ रहे कई देशों को टीके की आपूर्ति सुनिश्चित की थी। यह समय है कि दुनिया भारत की मदद करे। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने बोजकिर के ट्वीट के जवाब में कहा कि इस कठिन समय में दिखाई गई एकजुटता के लिए भारत आपकी सराहना करता है। (इनपुट भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

UP Panchayat Elections: चुनाव ड्यूटी पर कर्मचारियों की मौत पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा- क्यों न चले आयोग पर अभियोग