Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

प्रवासी मजदूरों के लिए 50 हजार घर बनाएंगी सरकारी तेल कंपनियां, मंत्रालय ने दिए निर्देश

webdunia
रविवार, 11 अक्टूबर 2020 (21:26 IST)
नई दिल्ली। पेट्रोलियम मंत्रालय ने इंडियन ऑइल कॉर्प (आईओसी) जैसी अन्य सार्वजनिक पेट्रोलियम कंपनियों को प्रवासी मजदूरों को किराए पर देने के लिए 50000 घर बनाने को कहा है।
 
कोरोनावायरस महामारी की रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन के मद्देनजर लाखों मजदूरों के शहरों से गांवों की ओर पलायन करने के बाद सरकार की किफायती किराए के आवास विकसित करने की योजना है।
 
इस विषय पर हुई एक बैठक में शामिल 3 अधिकारियों के अनुसार, मंत्रालय चाहता है कि आईओसी और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (एचपीसीएल), भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (बीपीसीएल), गेल इंडिया लिमिटेड और ऑइल एंड नेचुरल गैस कॉर्प (ओएनजीसी) जैसे उसके नियंत्रण वाले सार्वजनिक उपक्रम अपने-अपने पास उपलब्ध भूखंडों पर घरों का निर्माण करें।
 
उन्होंने कहा कि बैठक की अध्यक्षता तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने की, जिन्होंने सार्वजनिक उपक्रमों को जल्द से जल्द आवास इकाइयों के निर्माण की योजना बनाने को कहा है।
 
मंत्रालय ने 5 अक्टूबर को बैठक के बारे में ट्वीट किया था, जिसमें कहा गया था कि प्रधानमंत्री ने किफायती आवास योजना के तहत तेल और गैस परियोजनाओं पर काम करने वाले प्रवासियों व शहरी गरीबों को किराए पर मकान देने की दिशा में सार्वजनिक उपक्रमों द्वारा किए गए प्रयासों की समीक्षा करने के लिये पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय तथा आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक की। (भाषा) (प्रतीकात्मक चित्र)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Panasonic ने लॉन्च किया LUMIX S5 कैमरा, क्रिस्टल क्लियर इमेज व हाई सेंसिटिविटी वीडियो के साथ हैं ये खूबियां