Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

आखि‍र ब्र‍िटेन ने क्‍यों भारत को डाला ‘रेड लिस्‍ट’ में, अमेरिका और हॉन्‍गकॉन्‍ग ने भारत यात्रा के क्‍या नियम त‍य किए?

webdunia
मंगलवार, 20 अप्रैल 2021 (11:48 IST)
ब्रिटेन ने भारत को ट्रैवल 'रेड लिस्‍ट' में डालने का फैसला किया है। दरसअल, कोराना के नए केसों में तेजी से हो रहे इजाफे के बीच यह फैसला लिया गया है।

न्‍यूज एजेंसी एएफपी ने यह जानकारी दी है। कोरोना के ताजा मामलों में आए जबर्दस्‍त उछाल के बीच ब्रिटेन ने भारत पर सख्‍त यात्रा प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है। कोरोना हालात के मद्देनजर पीएम बोरिस जॉनसन की नई दिल्‍ली यात्रा रद्द होने के कुछ घंटों बाद यह फैसला आया है।

ब्रिटेन के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मैट हेनकॉक ने कहा, ब्रिटेन की देशों की 'रेड लिस्‍ट' में भारत को जोड़ा जा रहा है। ब्रिटेन और आयरिश लोगों के अलावा भारत से किसी का भी आना प्रतिबंधित किया जा रहा है, इन लोगों को भी वापसी पर सरकार की ओर से मंजूर होटल में 10 दिन के लिए क्‍वारंटाइन रहना होगा।

उधर अमेरिका के सेंटर फॉर डिज़ीज़ कंट्रोल ने भी भारत में बढ़ते कोरोना केसों के बीच सभी यात्री भारत यात्रा से बचने के लिए कहा है। सीडीसी ने कहा है कि पूरी तरह से वैक्सीनेटेड यानी वैक्सीन की पूरी डोज़ ले चुके यात्रियों को भी खतरा हो सकता है। वो वायरस के कई वेरिएंट्स से संक्रमित हो सकते हैं और फिर उसका प्रसार कर सकते हैं।

इसके अलावा बता दें कि हांग-कांग ने भी भारत से आने वाली हर फ्लाइट को 20 अप्रैल से अगले 14 दिनों तक बैन कर दिया गया है।

गौरतलब है कि सोमवार को लगातार दूसरे दिन भारत में ढाई लाख से ज़्यादा नए COVID-19 केस दर्ज किए गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान देशभर में 2,73,810 नए कोरोना मामले सामने आए, जबकि एक दिन में वायरस के चलते 1,619 मौतें दर्ज हुईं। यह दोनों ही आंकड़े एक दिन में अब तक दर्ज हुई सबसे बड़ी संख्या हैं। इन आंकड़ों को जोड़कर कोरोना का फैलाव होने के बाद से देशभर में अब तक 1,50,61,919 लोग संक्रमण का शिकार हो चुके हैं, और कुल 1,78,769 लोगों ने वायरस के कारण जान गंवाई है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

प्रवासी मजदूर फिर पलायन को मजबूर, राहुल ने की खातों में 6000 जमा कराने की मांग