मुजफ्फरनगर सीमा सील, प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाएंगे अधिकारी

शनिवार, 16 मई 2020 (17:55 IST)
मुजफ्फरनगर (उत्तरप्रदेश)। मुजफ्फरनगर जिले की सीमा पर अतिरिक्त पुलिसकर्मियों को तैनात कर सभी प्रवेश बिंदुओं को सील कर दिया गया है। पैदल चलकर आने वाले प्रवासी श्रमिकों के साथ हो रही दुर्घटनाओं को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।
 
जिले की प्रत्येक सीमा चौकी में एक अधिकारी के नेतृत्व में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती के साथ कड़ी चौकसी रखी गई है। 
 
जिला मजिस्ट्रेट सेल्वा कुमारी जे ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए जिले के प्रत्येक प्रवेश बिंदु पर आठ अधिकारियों को तैनात किया गया है।
 
उन्होंने कहा कि मेरठ, बिजनौर, सहारनपुर और शामली जिलों से लगी सीमाओं को सील कर दिया गया। प्रवासियों को जब तक उनके घर नहीं पहुंचा दिया जाता तब तक उनको आश्रय और भोजन उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी अधिकारियों की है।
 
उत्तरप्रदेश के औरैया जिले में शनिवार सुबह ट्रक और एक डीसीएम मेटाडोर (ट्रक से छोटा वाहन) की टक्कर में 24 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई जबकि 36 अन्य मजदूर घायल हो गए। इन दोनों वाहनों में ज्यादातर पश्चिम बंगाल और झारखंड के मजदूर सवार थे। 
 
पड़ोसी शामली जिले में जिला मजिस्ट्रेट जसजीत कौर और पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने स्थिति पर नजर रखने के लिए हरियाणा की सीमा से जिले में बह रही यमुना नदी के किनारे का दौरा किया।
 
हाल में कुछ प्रवासी कामगारों द्वारा रात में हरियाणा से नदी के रास्ते उत्तरप्रदेश में आने कोशिश के बाद यहां जरूरी इंतजाम किये गए हैं। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Covid-19 : दुबई में कोरोना योद्धा के रूप में सेवाएं दे रहे हैं चेन्नई के डॉक्टर