Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

इंदौर : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच डॉ. भूरे सिंह सेतिया नए CMHO, नाइट कर्फ्यू के लिए जारी हुए नए आदेश

हमें फॉलो करें webdunia
बुधवार, 17 मार्च 2021 (21:04 IST)
इंदौर। बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच डॉ. भूरे सिहं सेतिया को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बनाया गया है। कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि 17 मार्च से रात 10 से सुबह 6 बजे तक के लिए आगामी आदेश तक प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए हैं। यह कर्फ्यू नहीं है। सिंह ने कहा कि इस दौरान दवा, किराना दुकान, दूध डेयरी आदि अति आवश्यक सामग्री की दुकानें खुली रह सकेंगी। बहुत आवश्यक होने पर ही मूवमेंट किया जा सकता है। 
 
सिंह ने कहा कि पार्टी ,पिकनिक स्पॉट, स्विमिंग पूल आदि को बंद कर दिया गया है। जिले में रेस्टोरेंट्स तथा कोचिंग क्लासेस आदि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही संचालित हो सकेगी। 
 
सिंह ने कल 16 मार्च को धारा 144 के अंतर्गत कोरोना महामारी नियंत्रण के लिये प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये थे। जारी आदेश के अनुसार विभिन्न धर्मस्थलों पर किसी भी प्रकार के धार्मिक कार्यक्रम, धार्मिक रैली, धार्मिक जुलूस आदि पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध रहेगा तथा धर्मस्थल पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए केवल दर्शन आदि किया जा सकेगा। ज्यादा भीड़/अनियंत्रित भीड़ हो जाने से धर्मस्थल प्रबंधक कुछ समय के लिए धर्मस्थल को बंद कर सकेंगे।
webdunia
समस्त प्रकार के स्वीमिंग पूल पूर्ण रूप से बंद रहेंगे तथा इन्दौर शहर के आसपास के समस्त पिकनिक स्पार्ट पर जाना प्रतिबंधित रहेगा। शहर में रात्रि 10  से सुबह 6 बजे तक समस्त दुकानें/व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। केमिस्ट, राशन एवं खान-पान की दुकान पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।

अस्पताल, एयरपोर्ट, रेल्वे स्टेशन, बस स्टेण्ड आने जाने के लिए ही आवागमन की अनुमति होगी। समस्त अन्य गैर आवश्यक आवागमन आमजन द्वारा नहीं किए जा सकेंगे। निर्देश 17 मार्च 2021 से आगामी आदेश तक प्रभावशील रहेगा।
 
पुलिस द्वारा नियमित रूप से पेट्रोलिंग व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। इसी प्रकार समस्त रेस्टोरेंट भी रात्रि में 10 बजे अनिवार्यतः बंद होंगे। रात्रि 10 बजे के उपरांत फार्म हाउस, विभिन्न बंद हॉलों में अथवा पृथक से खुले क्षेत्रों में समस्त प्रकार की पार्टियां प्रतिबंधित रहेगी।

जुलूस/गैर/मेले आदि के आयोजन प्रतिबंधित रहेंगे। खुले/बंद स्थानों पर आयोजित समस्त सामाजिक/राजनीतिक/धार्मिक/शैक्षणिक/खेल/मनोरंजन/सांस्कृतिक कार्यक्रम अधिकतम 100 व्यक्तियों तक ही किए जा सकेंगे। 100 से अधिक व्यक्ति शामिल होने पर जिला प्रशासन से पूर्व अनुमति प्राप्त करना बंधनकारी होगा।

शादी, विवाह कार्यक्रम में अधिकतम 200 व्यक्ति (वर-वधू पक्ष, पुजारी आदि को मिलाकर) रह सकेंगे तथा बारात में 50 व्यक्ति ही रह सकेंगे। जनाजे, शवयात्रा आदि में अधिकतम 50 लोगों के साथ निकल सकेंगे तथा शमशान, कब्रिस्तान में अधिकतम 20 व्यक्ति ही प्रवेश कर सकेंगे।

समस्त उठावने चलित श्रेणी के ही किए जा सकेंगे। गांवों में मृत्यू भोज/तेरहवी में यह देखा जा रहा है कि सैकड़ों की संख्या में लोगों को आमंत्रित कर यह कार्य किए जा रहे है । कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए यह प्रतिबंधित रहेगा तथा अधिकतम 50 व्यक्ति ही शामिल हो सकते हैं।

औद्योगिक गतिविधियां में इस आदेश का कोई प्रभाव नहीं रहेगा तथा वह इस प्रतिबंधों से मुक्त रहेगी। पीथमपुर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित औद्योगिक ईकाईयों में कार्यरत अधिकारी/कर्मचारियों को आने एवं जाने हेतु अनुबंधित बसों की आवाजाही पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। यह आदेश तत्काल प्रभाव से प्रभावशील रहेगा। उक्त आदेश का उल्लंघन भारतीय दंड विधान की धारा 188 अंतर्गत दण्डनीय अपराध की श्रेणी में आएगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सरकार करेगी 3 संयुक्त सचिवों, 27 निदेशकों, 13 उप सचिवों की नियुक्ति