Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

COVID-19 : आज 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को लगेगा टीका, केंद्र ने दिए ये निर्देश...

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
गुरुवार, 1 अप्रैल 2021 (01:01 IST)
नई दिल्ली। देश में 1 अप्रैल से 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 रोधी टीकाकरण की तैयारियों के बीच केंद्र ने बुधवार को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ समीक्षा बैठक की तथा उनसे ऐसे क्षेत्रों की पहचान करने को कहा, जहां टीकाकरण कराने वाले लोगों की संख्या कम है। इसने खासतौर पर ऐसे जिलों को भी चिह्नित करने को कहा जहां संक्रमण के नए मामलों में वृद्धि हो रही है। केंद्र ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को उचित कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस संबंध में एक बयान में कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं कोविड टीकाकरण अधिकार प्राप्त समूह के अध्यक्ष डॉ. आरएस शर्मा और केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य सचिवों, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अभियान निदेशकों और टीकाकरण अधिकारियों की उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

मंत्रालय ने कहा कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई बैठक में देशभर में टीकाकरण अभियान की स्थिति और गति तथा अप्रैल 2021 की तैयारियों (जब 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण किया जाएगा) की समीक्षा की गई।

बयान में कहा गया कि बैठक में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से यह भी कहा गया कि वे ऐसे क्षेत्रों, जहां लोगों ने कम टीकाकरण कराया है, तथा खासतौर पर ऐसे जिलों को चिह्नित करें जहां कोरोनावायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि हो रही है। इसमें कहा गया कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से उचित कार्रवाई करने को भी कहा गया।

बैठक में स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कर्मियों के टीकाकरण के बारे में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को यह सुनिश्चित करने की सलाह दी गई कि संबंधित श्रेणियों में केवल योग्य लाभार्थियों का ही पंजीकरण और टीकाकरण हो। राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से निजी कोविड टीकाकरण केंद्रों में क्षमता इस्तेमाल की नियमित समीक्षा करने को भी कहा गया।

बयान में कहा गया कि उनसे इस तरह के और प्रतिष्ठानों की आवश्यकता का पता लगाने के लिए निजी टीकाकरण केंद्रों का जीआईएस विश्लेषण करने तथा निजी टीकाकरण केंद्रों की टीका आपूर्ति और दिशा-निर्देश संबंधी आशंकाओं का समाधान करने को भी कहा गया।

राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को यह सुनिश्चित करने की भी सलाह दी गई कि प्रशीतन केंद्रों या निजी टीकाकरण केंद्रों में आवश्यकता से अधिक भंडारण या कम भंडारण से बचने के लिए टीकों की आपूर्ति खपत के आधार पर हो।मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि उनसे टीकों के भंडार तथा खपत की नियमित समीक्षा करने को भी कहा गया।

केंद्र ने राज्यों तथा केंद्रशासित प्रदेशों को यह सलाह भी दी कि टीकों के बेकार होने की दर एक प्रतिशत से नीचे रहे जो वर्तमान में राष्ट्रीय स्तर पर छह प्रतिशत है। उनसे यह भी कहा गया कि वे टीकों के भंडार का समय पर इस्तेमाल कर लें जिससे कि टीकों की समापन अवधि की समस्या से बचा जा सके तथा टीकों की खपत के विवरण को-विन और ई-विन पोर्टलों पर अद्यतन करें। डॉ. शर्मा ने कहा कि टीकों के भंडारण और प्रचालन में कोई समस्या नहीं है।

उन्होंने जोर देकर पुन: कहा कि दूसरी खुराक के लिए टीकों का भंडार रखने की कोई अहमियत नहीं है और राज्य मांग आने पर सभी सरकारी तथा निजी अस्पतालों को टीकों की तत्काल आपूर्ति करें। राष्ट्रव्यापी कोविड रोधी टीकाकरण की शुरुआत गत 16 जनवरी से हुई थी, जिसमें सर्वप्रथम स्वास्थ्यकर्मियों को शामिल किया गया। अग्रिम पंक्ति के कर्मियों के लिए टीकाकरण की शुरुआत दो फरवरी से हुई थी।

इसके बाद 60 साल से अधिक उम्र के लोगों तथा अन्य बीमारियों से पीड़ित 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण की शुरुआत एक मार्च से हुई थी। अब 45 साल से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए एक अप्रैल से कोविड रोधी टीकाकरण शुरू होगा।

देश में कोविड रोधी टीके की 6.43 करोड़ से अधिक खुराकें : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि देश में कोविड रोधी टीके की 6.43 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं। शाम सात बजे तक की अस्थाई रिपोर्ट के अनुसार, 6,43,58,765 लोगों को टीके की खुराकें दी गई हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, 82,47,288 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की पहली खुराक दी गई है जबकि 52,38,705 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की दूसरी खुराक दी गई है। इसी तरह अग्रिम पंक्ति के 91,34,627 कर्मियों को टीके की पहली खुराक लगाई गई है, जबकि 39,23,172 अग्रिम पंक्ति के कर्मियों को टीके की दूसरी खुराक दी गई है। साठ वर्ष से अधिक उम्र के 3,00,39,599 लोगों को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक दी गई है। इस आयु वर्ग के 86,869 लोगों को टीके की दूसरी खुराक दी जा चुकी है।

मंत्रालय ने बताया कि गंभीर बीमारियों से पीड़ित 45-60 वर्ष आयु वर्ग के 76,74,934 लोगों को टीके की पहली खुराक और इस श्रेणी के 13,571 लोगों को टीके की दूसरी खुराक दी गई है। उसने बताया कि बुधवार शाम सात बजे तक टीके की 13,04,412 खुराकें दी गई हैं।

यह राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान शुरू होने का 75वां दिन है जो 16 जनवरी को शुरू हुआ था।शाम सात बजे तक की अस्थाई रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें से 11,07,413 लाभार्थियों को टीके की पहली खुराक लगाई गई है जबकि 1,96,999 लोगों को टीके की दूसरी खुराक दी गई है।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
जम्मू कश्मीर में 150 से अधिक रोहिंग्याओं को वापस भेजने की प्रक्रिया शुरू