Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Corona के भारतीय स्वरूप को लेकर ब्रिटेन का स्वास्थ्य विभाग भी चिंतित

webdunia
शुक्रवार, 7 मई 2021 (20:11 IST)
लंदन। ब्रिटेन के स्वास्थ्य विभाग ने भारत में पाए गए कोरोनावायरस (Coronavirus) के तीन स्वरूप में से एक स्वरूप को लेकर चिंता व्यक्त की है। बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (पीएचई) विभाग ने कोरोनावायरस के एक भारतीय स्वरूप बी.1.617.2 को लेकर कहा है कि यह अन्य दो स्वरूपों की अपेक्षा अधिक संक्रामक है और तेजी से फैलता है।

कोरोनावायरस के इस स्वरूप के अलावा अब तक बी.1.617 और बी.1.617.3 पर शोध चल रहा है। पीएचई की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, बी.1.617 के 61 नमूनों समेत कुल 500 नमूनों पर शोध किया जा रहा है।

हालांकि कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना का बी.1.617.2 स्वरूप ब्रिटेन में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार कैंट स्वरूप के मुकाबले कम संक्रामक है। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, इस बात के अब तक कोई सुबूत नहीं मिले हैं जिसके आधार पर यह कहा जा सके कि कोरोनावायरस के भारतीय स्वरूप पर वैक्सीन काम नहीं करेगी।
ALSO READ: Coronavirus Vaccination : कोरोना वैक्सीन से पहले और बाद में बिल्कुल न करें ये 7 काम
दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील और भारत में पाए गए कोरोनावायरस के स्वरूपों में स्पाइक प्रोटीन में बदलाव देखने को मिला है, जिसके जरिए यह मानव कोशिकाओं से जुड़ जाता है। दरअसल, किसी भी वायरस की यह प्रकृति होती है कि वह म्यूटेंट होकर अपने रूप और अस्तित्व को बरकरार रखे। भारत में कोविड-19 की दूसरी भयावह लहर के पीछे कोरोनावायरस के इसी स्वरूप को जिम्मेदार माना जा रहा है।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

आपदा में 'अवसर', 360 किमी मरीज ले जाने का किराया 1.20 लाख..!