Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सावधान, ब्रिटेन में मिला कोरोनावायरस का नया स्ट्रेन, तेजी से बढ़ रही है संक्रमितों की संख्या

हमें फॉलो करें webdunia
रविवार, 20 दिसंबर 2020 (07:25 IST)
लंदन। ब्रिटेन में कोरोनावायरस (कोविड-19) के नए वेरिएंट (स्ट्रेन) का पता चला है जो कि देश में बहुत ही तेजी से फैल रहा है। ब्रिटेन के मुख्य चिकित्सा अधिकारी क्रिस विट्टी ने इसकी पुष्टि करते हुए लोगों को अधिक सतर्क रहने की सलाह दी है।
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि वायरस का नया स्ट्रेन कोविड-19 महामारी का कारण बनता है और यह 70 फीसदी अधिक संक्रामक हो सकता है।
 
जॉनसन ने कहा कि कोरोना वायरस का एक नया स्ट्रेन देश में अपने पैर पसार रहा है जो पहले से कहीं अधिक तेजी से फैलता है। इस नए स्ट्रेन के कारण अस्पतालों में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, हालांकि इससे अधिक मौतें नहीं हो रहीं।
 
जॉनसन ने कहा, ‘यदि वायरस हमला करने की अपनी रणनीति बदलता है तो हमें भी बचाव की अपनी रणनीति बदलनी होगी।‘ ब्रिटेन की सरकार ने कोरोना वायरस के इस नए स्ट्रेन के बारे में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को जानकारी दे दी है।
ब्रिटेन में सरकार के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार पैट्रिक वैलेन्स ने कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन को लेकर कहा, ‘वायरस हमेशा अपना रूप बदलता रहता है और दुनिया भर में इसके कई नए रूप मिल सकते हैं। लेकिन यह एक विशेष स्ट्रेन है जो अधिक महत्वपूर्ण है।‘
 
उन्होंने कहा, ‘हमें लगता है कि कई अन्य देशों में भी वायरस का यह नया स्ट्रेन होगा लेकिन ब्रिटेन में यह महामारी का कारण बन गया है। हो सकता है कि इसकी शुरुआत यहीं से हुई हो, फिलहाल हमें इस बारे में स्पष्ट तौर पर जानकारी नहीं है।‘
 
उन्होंने कहा कि इस स्ट्रेन में क्या बदला है और वो अधिक खतरनाक है या नहीं यह समझने के लिए इसकी फिर से सीक्वेंसिग की जरूरत होगी और इस पर वैश्विक स्तर पर काम चल रहा है।
 
इस बीच, कोरोना संक्रमण के कारण प्रधानमंत्री जॉनसन ने लंदन समेत कुछ अन्य क्षेत्रों में क्रिसमस से पहले चौथे टियर के कड़े प्रतिबंध लागू करने की घोषणा की है। (वार्ता)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

farmers protest: किसान यूनियनों ने कहा- प्रदर्शन नहीं होगा खत्म, जल्द बनेगी आगे की रणनीति