इंग्लैंड ने वर्ल्ड कप जीतकर रचा इतिहास, ICC पर उठे 'गंभीर' सवाल

सोमवार, 15 जुलाई 2019 (08:15 IST)
लंदन। रोमांच की हदों को पार करने वाले आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को हरा दिया। मैच और सुपर ओवर के ‘टाई’ छूटने के बाद न्यूजीलैंड पर ‘बाउंड्री’ के दम इंग्लैंड को वर्ल्ड कप का विजेता घोषित कर दिया गया। हालांकि क्रिकेट जगत के दिग्गज ICC के इस नियम पर 'गंभीर' सवाल भी उठा रहे हैं।
 

Don't understand how the game of such proportions, the #CWC19Final, is finally decided on who scored the most boundaries. A ridiculous rule @ICC. Should have been a tie. I want to congratulate both @BLACKCAPS & @englandcricket on playing out a nail biting Final. Both winners imo.

— Gautam Gambhir (@GautamGambhir) July 14, 2019
गौतम गंभीर ने ट्वीट कर आईसीसी से पूछा कि मुझे समझ नहीं आ रहा कि इस तरह के मैच में ज्यादा बाउंड्री लगाने वाली टीम को विजेता कैसे घोषित किया जा सकता है। ये मैच टाई होना चाहिए था। मैं न्यूजीलैंड और इंग्लैंड को रोमांचक फाइनल के लिए बधाई देता हूं। दोनों ही टीमें विजेता हैं।
 

Two consecutive finals. Losing the finals because of fewer boundaries in a TIED game. It’s impossible not to feel for NZ. Tough luck, guys. You won a lot of hearts. #CWC19 #EngvNZ

— Aakash Chopra (@cricketaakash) July 14, 2019
कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने भी लिखा कि लगातार दो फाइनल मैच गंवाए, दूसरा फाइनल कम बाउंड्री लगाने की वजह से गंवाया। न्यूजीलैंड के साथ हमदर्दी न होना नामुमकिन है। इस टीम ने दिल जीते हैं।
 
न्यूजीलैंड ने 50 ओवर में आठ विकेट पर 241 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि इंग्लैंड की टीम 50 ओवर में आखिरी गेंद पर 241 के स्कोर पर आउट हो गई। विश्वकप के इतिहास में खिताब के लिए पहली बार सुपर ओवर का सहारा लिया गया।

फिर सुपर ओवर में भी दोनों टीमों ने समान रन बनाए। इसके बाद फैसला बाउंड्री से किया गया। मेजबान इंग्लैंड अधिक बाउंड्री लगाई थी और आखिर में 1975 से चला आ रहा उसका खिताब का इंतजार खत्म हो गया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 578 रन बनाने वाले केन विलियम्सन बने 'प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट'