Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

विश्व ओजोन दिवस कब है? क्यों मनाया जाता है? ओजोन क्या है?

हमें फॉलो करें webdunia
World Ozone Day in Hindi
 
ozone day 2022 : प्रतिवर्ष पूरी दुनिया में 16 सितंबर को विश्व ओजोन दिवस या ओजोन परत संरक्षण दिवस मनाया जाता है। 19 दिसंबर 1994 को संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा द्वारा 16 सितंबर को 'ओजोन दिवस' घोषित किया था।

ओजोन परत की सरंक्षण के लिए यह कदम उठाना बहुत जरूरी था। 16 सितंबर 1995 को पहली बार समूचे विश्‍व में विश्‍व ओजोन दिवस मनाया गया। सन् 1957 में ओजोन की खोज ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर 'गॉर्डन डॉबसन' ने की थी। आइए आगे जानते हैं- 
 
क्यों मनाया जाता है यह दिन ? - विश्व ओजोन दिवस को मनाने का उद्देश्‍य लोगों को ओजोन संरक्षण के लिए जागरूक करना है। 16 सितंबर 1987 को संयुक्‍त राष्‍ट्र और करीब 45 अन्‍य देशों ने मिलकर एक मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल पर हस्‍ताक्षर किए थे, ताकि ओजोन परत को खत्‍म होने से बचाया जा सकें। 
 
इस दिवस को मनाने का उद्देश्‍य यह है कि, उन पदार्थों का प्रयोग कम करना या उत्‍पादन कम करना जिससे ओजोन परत को नुकसान पहुंचता हो। जैसे- ऐसे प्रोडक्‍ट, प्‍लास्टिक कंटेनर, एयरोसोल या स्‍प्रे जिसमें क्लोरोफ्लोरोकार्बन हो, उनका बहुत अधिक उपयोग नहीं करना चाहिए। हमें पर्यावरण के अनुकूल उर्वरकों का प्रयोग करना चाहिए। वाहनों से ज्यादा धुंआ निकलना, प्‍लास्टिक, टायर, रबर आदि को नहीं जलाना चाहिए, क्योंकि यह ओजोन परत को खत्‍म करने का सबसे बड़ा कारण है। 
 
ओजोन क्या है ? - ओजोन लेयर धरती के वायुमंडल की एक परत है। जो सूरज से सीधे आने वाली किरणों को रोकती है। सूरज की किरणों से सबसे अधिक कैंसर का खतरा रहता है। इससे स्किन कैंसर भी हो सकता है। वहीं ओजोन परत सूरज की किरणों को एक प्रकार से छनकर धरती पर पहुंचती है। अत: ओजोन परत का बहुत महत्‍व होने के कारण यह दिन मनाया जाने लगा। अत: हमें अधिक से अधिक वृक्ष लगाने चाहिए जिससे ज्यादा ऑक्‍सीजन का निर्माण हो और ओजोन अणु निर्मित हो सकें। 
 
वर्ष 2022 में वर्ल्ड ओजोन डे की थीम (World Ozone Day 2022 Theme) - 'मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल@35: पृथ्वी पर जीवन की रक्षा करने वाला वैश्विक सहयोग' (Montreal [email protected]: global cooperation protecting life on earth) रखी गई है। 

webdunia

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मूनलाइटिंग क्या है जिससे भड़की हैं इंफ़ोसिस, विप्रो जैसी बड़ी कंपनियां