Mangal Pushya nakshatra : 22 अक्टूबर का मंगल पुष्य नक्षत्र है ज्यादा शुभ, जानिए क्या है खास बात

पुष्य नक्षत्र की खरीदी के लिए सोमवार से भी अधिक शुभ मंगलवार है। इसकी वजह यह है कि दीपावली के पहले मंगलवार को पुष्य नक्षत्र उदय हो रहा है जबकि सोमवार 21 अक्टूबर को शाम करीब 5:40 पर पुनर्वसु नक्षत्र समाप्त होकर पुष्य नक्षत्र शुरू हो रहा है। 
 
उदया तिथि के अनुसार 21 और 22 अक्टूबर पुष्य नक्षत्र में सूर्योदय होने से इस दिन खरीदारी और अन्य शुभ कामों को करने का महत्व ज्यादा रहेगा। इस संयोग में जो भी खरीदी की जाएगी, वह कई गुना शुभ रहेगी। इस दिन खरीदी वस्तु से आकर्षित हो मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। स्वयं घर में चली आती हैं। 
 
22 अक्टूबर को पुष्य नक्षत्र के साथ 3 ग्रह विशेष स्थिति में है। जिसके कारण 4 बड़े योग बन रहे हैं। अत: इनमें की गई खरीदारी बहुत शुभ रहेगी।
 
खरीदारी के इस मुहूर्त में संपत्ति, सोना-चांदी, आभूषण, हीरे-मोती या घर के उपयोग की सामग्री खरीदी जा सकती है। 
 
22 अक्टूबर को सूर्योदय से शाम करीब 5 तक पुष्य नक्षत्र के संयोग में खरीदी की जा सकेगी। इसके बाद सर्वार्थसिद्धि योग बनने से रात में भी खरीदारी का मुहूर्त बना रहेगा।
 
22 अक्टूबर, मंगलवार को पुष्य नक्षत्र होने से वर्धमान नाम का शुभ योग बन रहा है। इसके साथ ही सूर्य-चंद्रमा साध्य योग भी बना रहे हैं। वहीं इस दिन शाम को सर्वार्थसिद्धि योग बनेगा जो कि अगले दिन सूर्योदय तक रहेगा। इसके अलावा चंद्रमा पर बृहस्पति की दृष्टि पड़ने से गजकेसरी नाम का राजयोग भी बन रहा है। इस तरह तिथि, वार, नक्षत्र और ग्रहों की विशेष स्थिति के कारण दिनभर में 4 शुभ योग बनेंगे।
 
मंगलवार को पुष्य नक्षत्र का संयोग
मंगलवार को पुष्य नक्षत्र होने से वर्धमान योग बन रहा है। इस शुभ योग में की गई खरीदारी, लेन-देन और निवश से धन की वृद्धि होती है। ये सौभाग्य और समृद्धि बढ़ाने वाला शुभ योग है। मंगलवार होने से इस शुभ योग में प्रॉपर्टी, वाहन, अग्नि, शक्ति-ऊर्जा बढ़ाने वाली चीजें और सोने एवं तांबे से बनी चीजों की खरीदारी करना बहुत शुभ है। इसके अलावा इस दिन परिवार के पोषण में सहायक चीजों की खरीदारी भी की जा सकती है।
 
मंगल-पुष्य नक्षत्र पर सोना, चांदी, तांबा जैसी धातुओं की खरीदारी करने से सुख-समृद्धि व वैभव में वृद्धि होगी। साथ ही जमीन, मकान में निवेश करना बहुत लाभदायी साबित होगा। इनके अलावा वाहन, फर्नीचर, ज्वेलरी व अन्य घरेलू सामान की खरीदारी करना भी अति शुभ फलदायी होगा।

22 अक्टूबर को गुरु प्रधान धनु लग्न सुबह 11:10 से दोपहर 12:40 तक रहेगा और मीन लग्न शाम 04:10 से 5 बजे तक रहेगा। इस समय खरीदारी का महत्व ज्यादा रहेगा।
 
सभी राशियों के लिए खरीदी शुभ
मंगल पुष्य नक्षत्र सभी राशि के लिए सुख-समृद्धि लेकर आएगा। कोई भी राशि वाला व्यक्ति अपनी सुविधानुसार सभी तरह की धातुएं खरीद सकता है। यदि किसी को आर्थिक परेशानी है तो वह अंश मात्र का ही सही सोना या चांदी की खरीदी अवश्य करें, यह आने वाले समय उसके लिए शुभकारी साबित हो सकता है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख pushya nakshatra के दिन करें इस पेड़ की पूजा, बदल जाएगी किस्मत