Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

विश्व कप में सबसे बड़ा उलटफेर, दक्षिण कोरिया ने गत विजेता जर्मनी को हराकर किया बाहर

हमें फॉलो करें webdunia
बुधवार, 27 जून 2018 (21:46 IST)
कजान/येकातेरिनबर्ग। गत चैंपियन जर्मनी एशियाई टीम दक्षिण कोरिया के हाथों ग्रुप एफ में 0-2 की सनसनीखेज हार झेलकर बुधवार को फीफा विश्वकप टूर्नामेंट से बाहर हो गई जबकि इसी ग्रुप से स्वीडन ने मैक्सिको को 3-0 से हराकर नॉकऑउट दौर में प्रवेश कर लिया।




जर्मनी को मैक्सिको के हाथों पहले मैच में 0-1 से हार झेलनी पड़ी थी, लेकिन दूसरे मैच में स्वीडन के खिलाफ उसने 2-1 से आखिरी मिनट की जीत के बाद अपनी उम्मीदों को बरकरार रखा था, लेकिन कोरियाई टीम ने उसे शर्मनाक हार का घूंट पिलाकर अपने फ़ुटबाल इतिहास की सबसे बड़ी जीत दर्ज कर ली।

webdunia

जर्मनी के लिए इस हार के साथ साथ शर्मनाक बात यह भी रही कि वह ग्रुप में चौथे और आखिरी स्थान पर रहा। स्वीडन ने मैक्सिको पर शानदार जीत के साथ ग्रुप में टॉप किया जबकि मैक्सिको दूसरे स्थान पर रहा। हालांकि दोनों टीमों के एक बराबर 6-6 अंक थे, लेकिन स्वीडन गोल औसत में बेहतर रहा। कोरिया और जर्मनी के भी 3-3 अंक थे,  लेकिन यहां कोरिया का गोल औसत बेहतर रहा।

 
 
कोरिया ने दोनों गोल निर्धारित 90 मिनट तक मुकाबला गोलरहित बराबर रहने के बाद इंजरी समय में किए। यह लगातार तीसरा मौका है जब चैंपियन टीम ग्रुप चरण में बाहर हुई है। विश्व कप के इतिहास में यह छठा मौका है जब चैंपियन टीम पहले दौर में बाहर हुई है।


इनमें से चार मौके तो नई शताब्दी की शुरुआत होने पर आए हैं। केवल ब्राजील 2002 में खिताब जीतने के बाद अगले विश्व कप में ग्रुप चरण से आगे गई थी। फ्रांस, इटली, स्पेन और अब जर्मनी चार यूरोपीय ताकतें अपने खिताब के बचाव में पहले दौर की बाधा पार नहीं कर पाईं।

कोरिया के किम यंग-ग्वॉन ने इंजरी समय में पहला गोल किया लेकिन उन्हें ऑफ साइड करार दिया गया। कोरिया ने वीडियो रेफरल मांग लिया, जिस पर कोरिया को गोल मिल गया। सोन ह्युंग -मिन ने अंतिम सीटी बजने से पहले गोलकीपर के आगे निकल आने का पूरा फायदा उठाते हुए कोरिया का दूसरा गोल कर दिया। इस गोल के होते ही कोरियाई खिलाड़ी ख़ुशी से झूम उठे।
     
कोरिया के लिए यह बड़ा मौका था कि उसने चार बार की चैंपियन टीम को हरा दिया। जर्मनी की टीम 1938 के बाद पहली बार पहले ही राउंड में बाहर हुई है। जर्मनी का टूर्नामेंट में बेहद खराब प्रदर्शन रहा और वह तीन मैचों में मात्र दो गोल कर पाई। कोरिया की टीम भी बाहर हो गई लेकिन इस जीत के बाद वह गर्व से सर ऊंचा कर स्वदेश लौटेगी।
  
मेक्सिको को 3-0 से हराकर स्वीडन नॉकऑउट में 
उधर इसी ग्रुप के एक अन्य महत्वपूर्ण मुकाबले में स्वीडन ने मेक्सिको को 3-0 से हराकर नॉकऑउट का टिकट कटा लिया। पहला हाफ गोलरहित रहने के बाद स्वीडन ने 50 वें मिनट में लुडविग ऑगस्टिंसन के गोल से बढ़त बनाई।

मैच के 62 वें मिनट में आंद्रेस ग्रेनक्विस्ट ने पेनल्टी पर टीम का दूसरा गोल किया। 74 वें मिनट में मेक्सिको के एडसन अल्वारेज़ ने आत्मघाती गोल कर स्वीडन को ग्रुप में शीर्ष पर जाने का मौका दे दिया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

30 साल में 800 फुटबॉल इकट्ठा कर इस पूर्व रेफरी ने बनाया म्यूजियम