Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

उरुग्वे ने 64 साल बाद विश्व कप में दोनों शुरुआती मैच जीतकर अंतिम 16 में प्रवेश किया

हमें फॉलो करें webdunia
बुधवार, 20 जून 2018 (23:03 IST)
रोस्तोव ऑन दान (रूस)। लुई सुआरेज ने अपने 100वें अंतरराष्ट्रीय मैच को यादगार बनाकर आज यहां गोल दागा जिससे उरूग्वे ने सऊदी अरब को 1-0 से हराकर विश्व कप 2018 के अंतिम 16 में जगह बनाई। उरूग्वे की यह लगातार दूसरी जीत है। उसने पहले मैच में मिस्र को भी इसी अंतर से हराया था।


उसकी इस जीत से ग्रुप 'ए' से नाकआउट में पहुंचने वाली दोनों टीमें भी तय हो गई हैं। उरूग्वे की जीत ने मेजबान रूस का भी अंतिम 16 में स्थान पक्का कर दिया। इन दोनों टीमों के अभी दो मैचों में छह-छह अंक हैं। सऊदी अरब और मिस्र का सफर विश्व कप में लीग चरण में ही थम जाएगा।


सुआरेज ने खेल के 23वें मिनट में मैच का महत्वपूर्ण गोल दागा जो आखिर में निर्णायक साबित हुआ। शुरुआती 20 मिनट तक दोनों टीमों ने एक-दूसरे को बराबर की टक्कर दी लेकिन सुआरेज ने इसके बाद गोल करके उरूग्वे के दर्शकों में उत्साह भर दिया।

सुआरेज विश्व कप में उरूग्वे की तरफ विश्व कप में गोल करने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। रोस्तोव एरेना में खेले गए मैच में सुआरेज ने कार्लोस सांचेज के कार्नर पर यह गोल किया। तब गेंद सऊदी अरब के गोलकीपर मोहम्मद अल ओवैस की पहुंच से भी बाहर थी। इस तरह से सुआरेज ने अपने 100वें मैच में 52वां गोल दागा। वह तीन विश्व कप में गोल करने वाले उरूग्वे के पहले खिलाड़ी भी बन गए हैं। इसके दो मिनट बाद उरूग्वे अपनी बढ़त दोगुनी करने की स्थिति में पहुंच गया था।

एडिसन कवानी गेंद लेकर आगे बढे लेकिन वह सऊदी अरब के कप्तान ओसामा हवासावी को नहीं छका पाए। सऊदी अरब ने मैदान के मध्य क्षेत्र में गेंद पर कब्जा जमाए रखा लेकिन गोल पर शॉट जमाने के मामले में उसके स्ट्राइकर फिर से नाकाम रहे।


उरूग्वे की रक्षापंक्ति उसके लिए काफी मजबूत साबित हुई, जिसने अपना गोल ही नहीं अपना बाक्स भी सुरक्षित रखा। दूसरे हाफ के शुरू में कोई भी टीम एक दूसरे को चुनौती देती हुई नहीं लगी। खेल के 62वें मिनट में तब दोनों टीमें हरकत में दिखी जब उरूग्वे ने अपने हाफ में फ्री किक के जरिए गेंद आगे बढ़ाई। बाएं छोर से कवानी को रोकने के लिए कोई खिलाड़ी नहीं था।
उन्होंने आगे अच्छा क्रॉस भी बढ़ाया लेकिन अन्य खिलाड़ी उनके इस प्रयास का फायदा नहीं उठा पाए। उरूग्वे अपनी बढ़त को बरकरार रखना चाहता था जबकि सऊदी अरब किसी भी तरह से आक्रमण मजबूत करना चाहता था। उसके कोच जुआन एंटोनियो पिज्जी ने आखिरी दस मिनट में मोहम्मद अल सहलावी को मैदान पर उतारकर इसके स्पष्ट संकेत भी दिए।लेकिन गोल करने के मौका उरूग्वे के पास था।

खेल के 88वें मिनट में कवानी गेंद लेकर आगे बढ़े। उन्हें केवल गोलकीपर को छकाना था लेकिन वह इसमें नाकाम रहे। उरूग्वे अब 25 जून को लीग चरण के अपने आखिरी मैच में रूस से भिड़ेगा, जिससे ग्रुप 'ए' से शीर्ष पर रहने वाली टीम का निर्धारण भी होगा। सऊदी अरब इसी दिन मिस्र का सामना करेगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

क्रेग ओवरटन और इयोन मोर्गन इंग्लैंड टीम में