Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

घाटे का सौदा नहीं है IPO में निवेश, रखें इन बातों का ध्यान, भारी पड़ सकती हैं ये गलतियां

हमें फॉलो करें webdunia

नृपेंद्र गुप्ता

शुक्रवार, 3 जून 2022 (15:30 IST)
नई दिल्ली। 2022 IPO इंड्रस्ट्री के लिए अब तक बुरा साल साबित हो रहा है। PayTM, LIC समेत कई कंपनियों के आईपीओ ग्राहकों के लिए घाटे का सौदा रहे। गो एयर, बजाज एनर्जी, ओयो रूम्स आदि कंपनियों के आईपीओ का निवेशक इंतजार कर रहे हैं। जब भी कोई बड़ा आईपीओ आता है तो उसका इस तरह स्वागत करता है मानो बाजार में इसकी लिस्टिंग के साथ ही निवेशकों पर धन वर्षा होने लगेगी। मगर जब शेयर बाजार में IPO की लिस्टिंग होती है तो निवेशक खुद को ठगा महसूस करते हैं। आइए जानते हैं आईपीओ से जुड़ी हर जानकारी...
 
क्या होता है IPO : आईपीओ का मतलब होता है, इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग (Initial public offering)। जब कोई कंपनी अपने स्टॉक या शेयर को पहली बार जनता के लिए जारी करती है तो उसे आईपीओ कहा जाता है। लिमिटेड कंपनियां शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने के लिए आईपीओ जारी करती है। कंपनी निवेश या विस्तार करने की हालत में फंडिंग इकट्ठा करने के लिए आईपीओ जारी करती है।
 
webdunia
IPO में निवेश के समय किन बातों का रखें ध्यान : वित्त विशेषज्ञ सागर अग्रवाल के अनुसार, IPO में निवेश करते समय यह ध्यान रखा जाना चाहिए कि कंपनी के टेक्निकल और फंडामेंटल्स क्या है? अगर कोई कंपनी अपना IPO बाजार में ला रही है तो ग्राफ के थ्रो यह पता लगाया जाता है कि कंपनी कितने समय से काम कर रही है? उसकी प्रॉफिटेबिलिटी कितनी है? कितने शहर में उसका काम चल रहा है? उसके फ्यूचर प्लांस क्या है? उसकी फ्यूचर ग्रोथ के अवसर क्या है? वह टेक्नीकली खुद को कितना अपग्रेड कर रही है?
 
सभी IPO निवेशकों के लिए अच्छे नहीं : वित्त विशेषज्ञ रवींद्र आर्य ने कहा कि आईपीओ में निवेश करना फायदे का सौदा है लेकिन सभी आईपीओ निवेशकों के लिए अच्छे नहीं होते। कंपनी की रेटिंग देखकर, एनालिसिस कर ही आईपीओ में इंवेस्ट करना चाहिए। गलत निवेश से नुकसान हो सकता है। जिस कंपनी का आईपीओ लेना चाहते हैं उसकी वेबसाइट पर जाकर बैलेंस सीट देख सकते हैं। IPO क्यों लाया जा रहा है इसका भी पता करना चाहिए।
 
रवींद्र ने बताया कि अगर शेयर बाजार सपोर्ट में है तो 10 में से 8 आईपीओ हिट हो जाते हैं और बाजार में बिकवाली की स्थिति में बड़े बड़े आईपीओ में भी नुकसान उठाना पड़ सकता है।
 
webdunia
क्यों IPO है निवेशकों की पसंद? : अग्रवाल ने बताया कि निवेशक कई कारणों से आईपीओ में निवेश करना पसंद करते हैं। इसमें निवेश के लिए लिमिटेड फंड्स की आवश्यकता होती है। लॉटरी सिस्टम से IPO का अलाटमेंट होता है। आईपीओ से जुड़ी जानकारी जुटाना आसान रहता है। इसमें पैसा लगाना आसान है साथ ही आप अपनी सुविधानुसार इसे बेच सकते हैं।
 
बड़े IPO में घाटा : 2022 में Pay TM, LIC जैसे बड़े आईपीओ बाजार में आए। दोनों ही आईपीओ को लोगों का बेहतरीन प्रतिसाद मिला लेकिन लिस्टिंग के बाद दोनों में ही निवेशकों को नुकसान हुआ है। आम निवेशक इस सवाल से परेशान रहे कि उन्हें अलाट हुए शेयरों को होल्ड करें या बेंच दें। PayTM ने उन्हें जमीन दिखा दी तो LIC में भी फायदे के लिए लंबे समय तक इंतजार करना होगा। LIC का शेयर अपने इश्यू प्राइस से 14 फीसदी नीचे हैं।
 
क्यों हो रहा है नुकसान ? : रूस यूक्रेन युद्ध की वजह से श्रीलंका, बांग्लादेश, पाकिस्तान जैसे भारत के पड़ोसी देशों की अर्थव्यवस्था बुरी तरह चरमरा गई है। दुनिया भर के शेयर बाजार नुकसान में है। विदेशी निवेशक भारतीय शेयर बाजारों में बिकवाली कर रहे हैं। 
 
इन गलतियों से बचें : अगर आप किसी आईपीओ में निवेश करना चाहते हैं तो भेड़चाल से बचें। रिसर्च किए बगैर किसी आईपीओं में पैसा नहीं लगाएं। बिजनस मॉडल जाने बिना किसी भी आईपीओ में पैसे निवेश ना करें। किसी भी स्थिति में आईपीओ के वैल्युएशन को नजरअंदाज ना करें। गिरते बाजार में निवेश करने से बचें। सिर्फ लिस्टिंग डे पर फायदा कमाने के लिए निवेश ना करें।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में योगी बोले, 1406 परियोजनाओं से 25 लाख को मिलेगा रोजगार