Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

International Day of Peace कब है? क्यों मनाया जाता है?

हमें फॉलो करें webdunia
International Day of Peace 2022
 
अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस (International Day of Peace) कब है?
 
दुनिया के सभी देशों तथा उनके ना‍गरिकों के बीच शांति एवं सद्भाव कायम रखने के उद्देश्य से ही प्रतिवर्ष 21 सितंबर का दिन 'विश्व शांति दिवस' के रूप में मनाया जाता है। इस दिन की शुरुआत सन् 1982 से हुई थी, जिसकी थीम 'Right to peace of people' रखी गई थी। 
सन् 1982 से लेकर 2001 तक सितंबर माह के तीसरे मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस/ विश्व शांति दिवस के रूप में मनाया जाता था, लेकिन सन् 2002 से इसके लिए 21 सितंबर की तारीख निर्धारित कर दी गई। तब से लेकर आज तक हर वर्ष 21 सितंबर के को विश्व शांति दिवस मनाया जाता है। मुख्य रूप से विश्व स्तर पर शांति बनाए रखने के लिए इस दिवस को मनाए जाने पर मोहर लगी थी, परंतु कहीं भी शांति के हालात नजर नहीं आते।
 
क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस? 
 
इस विशेष दिवस के जरिए दुनियाभर के देशों और नागरिकों के बीच शांति के संदेश का प्रचार-प्रसार करने के लिए यह दिन मनाया जाता है। सफेद कबूतर को शांति का दूत माना जाता है। अत: दुनियाभर में शांति का संदेश पहुंचाने के लिए विश्व शांति दिवस पर सफेद कबूतरों को उड़ाकर शांति का पैगाम दिया जाता है तथा एक-दूसरे से भी शांति कायम रखने की अपेक्षा की जाती है। 
 
इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र से लेकर अलग-अलग संगठनों, स्कूलों और कॉलेजों में शांति दिवस के अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। जीवन का प्रमुख लक्ष्य शांति और खुशी प्राप्त करना है, जिसके लिए मनुष्य निरंतर कर्मशील तो है लेकिन शांति के लिए प्रयासरत नहीं। पूरा विश्व, समस्त देशों के बीच शांति स्थापित करने के लिए प्रयासरत है। 
इसके लिए संयुक्त राष्ट्र द्‍वारा कला, साहित्य, सिनेमा तथा अन्य क्षेत्र की मशहूर हस्तियों को शांतिदूत के तौर पर नियुक्त भी किया गया है। हर साल यह दिवस अलग-अलग थीम पर मनाया जाता है। इसी के तहत 21 सितंबर को हर साल पूरे विश्व में अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस के रूप में मनाया जाता है। 
  
पंडित नेहरू द्वारा विश्व शांति का संदेश- विश्व शांति हेतु भारत में पंडित जवाहर लाल नेहरू द्वारा 5 मूल सिद्धांत दिए गए थे, जिन्हें पंचशील सिद्धांत कहा गया। यह 5 सिद्धांत इस प्रकार हैं- 
 
1. एक-दूसरे की प्रादेशिक अखंडता और प्रभुसत्ता का सम्मान करना। 
2. समानता और परस्पर लाभ की नीति का पालन करना।
3. एक-दूसरे के आंतरिक विषयों में हस्तक्षेप न करना। 
4. एक-दूसरे के विरूद्ध आक्रमक कार्यवाही न करना। 
5. शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व की नीति में विश्वास रखना। इन 5 बिंदुओं का अमल कर पूरे विश्व में शांति कायम रखी जा सकती है।

विश्व शांति दिवस 2022 की थीम : International Day of Peace Theme
 
वर्ष 2022 में अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस की थीम- ‘जातिवाद खत्म करें, शांति का निर्माण करें‘ (End Racism, Build Peace) रखी गई है। इसका मतलब दुनिया में एक ऐसे समाज का निर्माण करना है, जो किसी भी जाति का हो, सभी के साथ समान व्यवहार करना तथा जो सही मायने में शांति प्राप्त करने के लिए ऐसे समाज के निर्माण की आवश्यकता को भी दर्शाता है। अत: अहिंसा और संघर्ष विराम के माध्यम से विश्व में शांति कायम करना ही इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य है। 


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

World Alzheimer’s Day कब है, जानिए इस रोग के बारे में हर जरूरी बात