Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Meditation क्या है, जानिए ध्यान करने के 10 लाभ

हमें फॉलो करें Meditation
ध्यान को अंग्रेजी में मेडिटेशन कहते हैं। यदि ध्यान आपकी दिनचर्या का हिस्सा बन गया है तो यह आपके दिन का सबसे बढ़िया समय बन जाता है। आपको इससे आनंद की प्राप्ति होती है। फिर आप इसे 5 से 10 मिनट तक बढ़ा सकते हैं। पांच से दस मिनट का ध्यान आपके मस्तिष्क में शुरुआत में तो बीज रूप से रहता है, लेकिन 3 से 4 महीने बाद यह वृक्ष का आकार लेने लगता है और फिर उसके परिणाम आने शुरू हो जाते हैं।
 
ध्यान करने के 10 लाभ (Benefits of Meditation) :
 
1. कम होने लगते हैं विचार : जहां पहले 24 घंटे में चिंता और चिंतन के 50-60 हजार विचार होते थे वहीं अब उनकी संख्या घटने लगेगी। जब पूरी घट जाए तो बहुत बड़ी घटना घट सकती है। ध्यान से सर्वप्रथम सभी तरह की अनावश्यक मानसिक गतिविधि रूकने लगती है। चिंता और चिंतन से उपजे रोगों का खात्मा होगा।
 
2. श्वास-प्रश्वास में होता सुधार : ध्यान से श्वास-प्रश्वास में सुधार होने से भावनाएं भी नियंत्रित हो जाती है। यदि आपकी श्‍वांस प्रॉपर रूप से संचालित होगी तो शरीर के सभी अंग भी सुचारू रूप से संचालित होकर शरीर से जहरीले पदार्थ को बाहर कर देंगे। भोजन समय पर पचना प्रारंभ होगा। 
 
3. सोच बनेगी सकारात्मक : प्रतिदिन तीन माह तक सिर्फ 10 मिनट का ध्यान करें। आपके मस्तिष्क में परिवर्तन होंगे और आप किसी भी समस्या को पहले की अपेक्षा सकारात्मक तरीके से लेंगे। मात्र तीन माह में हर तरह के रोग को रोककर शोक को मिटाने की क्षमता है ध्यान में।
 
4. भय होता खत्म : ध्यान से हर तरह का भय जाता रहेगा जिसके चलते कार्य और व्यवहार में सुधार होता है।
 
5. प्राणों का संचार : ध्यान से जहां शुरुआत में मन और मस्तिष्क को विश्राम और नई उर्जा मिलती है वहीं शरीर इस ऊर्जा से स्वयं को लाभांवित कर लेता है। ध्यान करने से शरीर की प्रत्येक कोशिका के भीतर प्राण शक्ति का संचार होता है। शरीर में प्राण शक्ति बढ़ने से आप स्वस्थ अनुभव महसूस करते हैं।
 
6. नियंत्रित होता ब्लड प्रेशर : ध्यान से उच्च रक्तचाप नियंत्रित होता है। सिरदर्द दूर होता है। शरीर में प्रतिरक्षण क्षमता का विकास होता है, जोकि किसी भी प्रकार की बीमारी से लड़ने में महत्वपूर्ण है। ध्यान से शरीर में स्थिरता बढ़ती है। यह स्थिरता शरीर को मजबूत करती है।
  
7. मेमोरी पॉवर बढ़ता : ध्यान से मेमोरी पॉवर बढ़ता है। ध्यान के साथ इस जाति स्मरण का अभ्यास जारी रखने से एक माह बाद जहां मेमोरी पॉवर बढ़ेगा वहीं कुछ माह बाद यह आपमें गजब की स्मरणशक्ति का विकास कर देगा। आप किसी भी उम्र में और किसी भी हालात में भूल नहीं सकते।
 
8. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती : ध्यान से मुख्य रूप से मस्तिष्क शांत होता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है।
 
9. आंखों की ज्योति बढ़ती है : इससे जहां रक्त संचार अच्छा रहता है वहीं आंखों की ज्योति भी बढ़ती है। 
 
10. तनाव हो जाता है समाप्त : ध्यान से तनाव के दुष्प्रभाव से बचा जा सकता है। निरंतर ध्यान करते रहने से जहां मस्तिष्क को नई उर्जा प्राप्त होती है वहीं वह विश्राम में रहकर थकानमुक्त अनुभव करता है। गहरी से गहरी नींद से भी अधिक लाभदायक होता है ध्यान।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

आलू के छिलकों को फेंकें नहीं, किचन में आ सकते हैं काम