Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Eye Care Tips : इन आसान टिप्स को अपनाकर करें आंखों की सही देखभाल, जरूर जानिए

webdunia
आंखें ईश्वर का दिया सबसे अनमोल उपहार है, क्योंकि इसके द्वारा हम दुनिया की हर वह चीज देख सकते हैं, जो हम देखना चाहते हैं। इसलिए आंखों की देखभाल करना हमारा फर्ज है। कभी-कभी हम आंखों के प्रति जरा लापरवाह हो जाते हैं, जो इस नाजुक अंग के लिए सही नहीं है। कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर आप अपनी आंखों को स्वस्थ और खूबसूरत बनाए रख सकते हैं।
 
सुबह सूर्योदय से पहले उठें और उठते ही मुंह में पानी भरकर बंद आंखों पर 20-25 बार ठंडे पानी के छींटे मारें। याद रखें, मुंह पर छींटे मारते समय या चेहरे को पानी से धोते समय मुंह में पानी भरा होना चाहिए।
 
नींद, आंखों में भारीपन, जलन या थकान महसूस हो तो काम तत्काल आंखों को बंद कर उन्हें थोड़ा विश्राम दें।
 
आंखों की सफाई - नियमित तौर पर आंखों की सफाई करने से आप कई समस्याओं को उनसे दूर रख सकते हैं। इसके लिए दिन में दो से तीन बार आंखों को ठंडे पानी से धो लें, ताकि आंखों की गर्मी और हानिकारक तत्व बाहर निकल जाए।
 
भरपूर नींद लें - दिनभर आपके साथ-साथ आपकी आंखें भी जागती हैं। ऐसे में उन्हें भी आराम की जरूरत होती है। पर्याप्त मात्रा में नींद लेना, आंखों को आराम देता है। इसके अलावा यह आंखों के आसपास सूजन की समस्या को भी दूर करता है और काले घेरे भी।
 
टीवी, कंप्यूटर से दूरी - टीवी या कंप्यूटर स्क्रीन से हमेशा पर्याप्त दूरी बनाए रखना, आंखों के लिए बेहतर होगा। इसके अलावा समय-समय पर ऐसे काम से ब्रेक लेते रहें जो आपको दिनभर कंप्यूटर या लैपटॉप पर करना होता है। इनसे निकलने वाली किरणें आपकी आंखों को नुकसान पहुंचा सकती है। अधिक समय तक व अंधेरे में टीवी देखना आंखों पर सीधा प्रभाव डालता है।
 
आंखों को रिलैक्स करने का सबसे बेहतर तरीका है, आंखों के चारों ओर नारियल या बादाम के तेल से मसाज करें। ध्यान रहे कि यह मसाज हल्के हाथों से ही की जाए। इन दो तेलों के अलावा आप विटामिन-ई युक्त तेल भी प्रयोग कर सकते हैं।
 
काम करने के दौरान हर 3 से 4 घंटे में अपनी आंखों को कुछ मिनट के लिए बंद कर लीजिए। यह प्रक्रिया आपको पूरे दिन कंप्यूटर के सामने बैठे होने पर दोहराते रहना चाहिए। ऐसा करने से आपकी आंखों को आराम मिलता है, जो बहुत जरूरी है।
 
अपनी आंख की पुतलियों को दाएं-बाएं और ऊपर-नीचे करने के साथ ही चारों ओर घुमाएं, इससे आंखों का व्यायाम होता है।
 
 बादाम,  मिश्री, सौंफ और दूध की। दवा को बनाने के लिए सबसे पहले बादाम की गिरी, मिश्री और सौंफ को बारीक पीसकर या कूटकर बारीक चूर्ण तैयार कर लें। अब इस मिश्रण को प्रतिदिन 250 ग्राम दूध के साथ 10 ग्राम की मात्रा में मिलाकर सेवन करें। लगभग 40 दिनों तक आपको लगातार इस चूर्ण का सेवन करना होगा। कुछ ही दिनों में आप महसूस करेंगे कि आपकी आंखों की कमजोरी कम हो रही है। 
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अमेरिका में भी मनेगा राम मंदिर शिलान्यास समारोह का जश्न