पेट फूला-फूला रहता है? तुरंत बदलिए लाइफ स्टाइल, पढ़ें 10 काम की बातें

सपाट पेट चाहिए तो कुछ खास बातों से छुटकारा पाइए 

लगातार बैठे रहने और कम मेहनत करने वालों का पेट बाहर आ जाता है लेकिन यह जरूरी नहीं है... कई बार खूब श्रम करने वाले लोग भी इस समस्या से ग्रस्त होते हैं, आइए जानें कि आखिर समस्या की जड़ क्या है... 
 
पेट की चर्बी घटाने के लिए आपको पूरे शरीर की चर्बी घटाने पर ध्यान देना होगा। 
 
शरीर के किसी एक ही हिस्से की चर्बी घटाने का दावा करने वाले वर्क-आउट कारगर नहीं होते। 
 
किसी विशेषज्ञ की देखरेख में सप्ताह में कम से कम चार दिन आधे घंटे का वर्क आउट करें। 

एक ही स्थान पर अधिक देर तक बैठे रहने के बजाए चलना-फिरना बढ़ा दें। 
 
सक्रिय जीवनशैली पेट को सपाट रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। 
 
भोजन में वसा और शकर की मात्रा कम कर दें। इनके कारण पाचन क्रिया बोझिल हो जाती है। कम वसा व शकर वाले पदार्थ आसानी से पच जाते हैं और पेट पर जुल्म नहीं करते। 

ALSO READ: क्या कहा? 'किस' से दूर रहेंगी बीमारियां और मोटापा
 
यदि आप 'वॉटर रिटेंशन' की समस्या से ग्रस्त हैं, तो इसके कारण भी आपका पेट फूला-फूला-सा रह सकता है। ऐसे में नमक का सेवन कम कर देना चाहिए, क्योंकि यह वॉटर रिटेंशन को बढ़ावा देता है। 
 
अचार, पापड़, डिब्बाबंद पदार्थों में नमक की मात्रा अधिक होती है, अतः इनसे दूरी बना लें। 
 
तनाव को दूर करें। आज के दौर में यह मुश्किल तो है मगर नामुमकिन नहीं। तनाव के कारण पेट में गैस बढ़ जाती है और फिर तो आपका पेट सपाट दिखने से रहा। 
 
धूम्रपान भी पाचन प्रक्रिया को गड़बड़ा देता है इससे गैस बढ़ सकती है।  

ALSO READ: यह 6 असरकारी फल, मोटापे को शर्तिया करेंगे कम

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख नक्षत्र और राशि के बीच क्या अंतर है? नक्षत्रों की ये विशेषताएं नहीं जानते हैं आप