Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia

आज के शुभ मुहूर्त

(द्वितीया तिथि)
  • तिथि- फाल्गुन कृष्ण द्वितीया
  • शुभ समय- 6:00 से 7:30 तक, 9:00 से 10:30 तक, 3:31 से 6:41 तक
  • राहुकाल-प्रात: 7:30 से 9:00 बजे तक
  • व्रत/मुहूर्त-वधूप्रवेश/द्विरागमन मुहूर्त
webdunia
Advertiesment

नवरात्रि उपवास कैसे करें, कैसी होना चाहिए आपकी diet planning

हमें फॉलो करें नवरात्रि उपवास कैसे करें, कैसी होना चाहिए आपकी diet planning
, गुरुवार, 7 अक्टूबर 2021 (12:37 IST)
यदि आप शारदीय नवरात्रि में 9 दिनों तक उपवास करने जा रहे हैं तो उपवास में कई लोग खिचड़ी, फलाहार आदि उपवास की चीजें खाते हैं। यदि आप पूर्णोपवस नहीं कर रहे हैं तो जानिए यहां नौ दिनों का डाइट प्लान।
 
1. दिन की शुरुआत गुनगुने पानी, नारियल पानी, नींबू पानी, मिल्क शेक या ग्रीन टी से करें। चाय या दूध कतई नहीं पिएं, तभी आपको व्रत का फायदा होगा।
 
2. इसके बाद ब्रेकफास्ट में आप फल, ड्राई फ्रूट और किशमिश या मुनक्का का सेवन कर सकते हैं। लेकिन हमारी सलाह है कि हो सके तो आप ब्रेकफास्ट ना लें।
 
3. लंच के समय साबूदाने या मोरधन की खिचड़ी का सेवन करें जिसमें आलू मिले हों। पेटभर का खिचड़ी ना खाएं। हो सके तो खिचड़ी दही मिलाकर खाएं।
 
4. लंच के दौरान कुछ लोग राजगिरे, कद्दू या सिंघाड़े का आटे की रोटी बनाकर आलू या भींडी की सब्जी से खाते हैं। पेटभर ना खाएं।
 
5. लंच के बाद एक गिलास छाछ ले सकते हैं। अगर आपको लो बीपी की समस्या है तो उसमें सेंधा नमक का उपयोग कर सकते हैं।
 
6. लंच के बाद यदि आपको 4 या 5 बजे के आसपास भूख लगे तो आप दही खा सकते हैं। आप मिल्क शेक या ग्रीन टी भी ले सकते हैं।
 
7. शाम को स्नैक्स के रूप में आलू की चिप्स का उपयोग कर सकते हैं।
 
8. यदि आप डिनर में फिर से खिचड़ी खाना पसंद नहीं करते हैं तो डिनर के समय चकूंदर या अनार के रस का सेवन करें यह बहुत ही फायदेमंद रहेगा।
 
9. सोने से पहले एक गिलास हल्का गुनगुना दूध पीना अच्छा रहेगा। हालांकि यदि आप कुछ नहीं पिएंगे तो बेहतर रहेगा।
 
नोट : आपको यदि किसी भी प्रकार की शारीरिक समस्या है जैसे डायबिटीज, ब्लड प्रेशर आदि तो आपको डॉक्टर की सलाह अनुसार ही उपवास करना चाहिए।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

The Alchemist: वो किताब जो ‘सपनों’ को हासिल करने की यात्रा को इतना मजेदार बना देगी कि ‘मंजिल’ याद नहीं रहेगी