Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Benefits Of Balance Diet : बैलेंस डाइट क्या होती है, अच्छे स्वास्थ्य के लिए क्यों है जरूरी

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
तंदुरुस्त रहने के लिए संतुलित आहार यानी Balanced Diet लेना बेहद जरूरी है। यदि आप संतुलित आहार लेते हैं तो यह सीधे आपकी अच्छी सेहत से जुड़ा हुआ है, जो आपको बीमारियों से दूर रखता है। वहीं अगर हम बैलेंस डाइट नहीं लेते हैं, तो हमें कई बीमारियां घेर लेती हैं। आपको अपनी डाइट में ऐसे फूड को शामिल करने की जरूरत होती है, जो आपको सभी जरूरी पोषक तत्व दें। एक सही डाइट प्लान आपकी उम्र पर भी निर्भर करता है। बच्चों, वयस्कों व महिलाओं के लिए अलग डाइट प्लान तैयार होता है जिससे कि वे स्वस्थ रह सकें, वहीं गर्भावस्था के दौरान आपको अपनी पोषण और डाइट प्लान बदलना भी बेहद जरूरी होता है।
 
बैलेंस डाइट के लिए आपको क्या करना चाहिए?
 
एनर्जी:
 
दैनिक काम के लिए एक निश्चित ऊर्जा की जरूरत होती है। एनर्जी की आपको सही मात्रा कार्बोहाइड्रेट से मिलती है। कार्बोहाइड्रेट अनाजों, गेहूं, बाजरा व ओट्स में पाया जाता है। फल और कई तरह की फलियों से भी कार्बोहाइड्रेट शरीर को मिलता है। इसलिए एनर्जी के लिए कार्बोहाइड्रेट को सही मात्रा में अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।
 
प्रोटीन:
 
प्रोटीन बेहतर स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक है। इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाए रखने से लेकर शरीर की मांसपेशियों को मजबूत बनाए रखने तक प्रोटीन बहुत आवश्यक है। इसको सही मात्रा में लेना जरूरी होता है। दूध और दूध से बने खाद्य पदार्थों में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा दाल, मछली, अंडा और चिकन भी प्रोटीन के प्रमुख स्रोत हैं।
 
फैट:
 
फैट भी हमारी डाइट में बहुत जरूरी होता है लेकिन सही मात्रा में। इसके लिए आपको अपने डाइटिशियन की सलाह लेना आवश्यक है। आपके शरीर में हेल्दी फैट आपको तंदुरुस्त रखने में मदद करता है।
 
दूध:
 
दूध और दूध से बने खाद्य पदार्थ शरीर को जरूरी क्वालिटी प्रोटीन प्रदान करते हैं।
 
सब्जियां और फल:
 
सब्जियों और फलों में कई पोषक तत्व होते हैं, जो स्वस्थ शरीर के लिए आवश्यक होते हैं। इनको डाइट में सही मात्रा में शामिल करना बहुत जरूरी है।
 
 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
Adhik maas 2020: अधिक/ पुरुषोत्तम मास, जानें कब व कैसे होता है?