Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

फिर से बढ़ा वर्क फ्रॉम होम का कल्चर, जानें कैसे रखें शरीर को संतुलित और हेल्‍दी

हमें फॉलो करें webdunia
कोरोना की तीसरी खतरनाक लहर का दौर शुरू हो गया है। एक बार फिर से लोगों को घर में कैद होने के लिए कहा जा रहा है, पहले के मुकाबले और तेजी से कोविड फैल रहा है। कोविड का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन, के खतरनाक मामले बढ़ रहे हैं। वहीं एक्सपर्ट के मुताबिक आने वाले वक्त में ओमिक्रॉन डोमिनेट हो जाएगा। अलग-अलग विशेषज्ञों के अलावा ओमिक्रॉन खतरनाक भी है और कम खतरनाक भी है। ऐसे में एक बार फिर से वर्क फ्रॉम होम का दौर शुरू हो गया है। आइए जानते हैं कैसे अपने आपको फिट और हेल्दी रखें -

- दिनचर्या तय करें - जब घर से ही काम करना होता है तो आलस आ जाता है। और नाश्ता करके काम पर बैठ जाते हैं। लेकिन ऐसा नहीं करें। ऑफिस का शेड्यूल भी पूरी तरह से वैसा ही रखें जैसा आपका रहता था। ताकि आप सभी कार्य समय पर कर सकेंगे।  

- सही फूड का चयन करें - दरअसल, कोविड की वजह से बहुत सावधानी बरतते हुए घर से बाहर निकलना है। इसलिए अपने खान-पान का विशेष ध्‍यान रखें। ऑयली, जंक फूड, मैदा, हैवी फूड का जरा भी सेवन नहीं करें। आप वीकेंड पर जरूर खा सकते हैं क्योंकि आपके पास घूमने का वक्त होता है। ऑफिस काम के दौरान नहीं।  

- 45 मिनट  बााद ब्रेक लें - वर्क फ्रॉर्म होम के दौरान स्ट्रेस लेवल बढ़ गया है। ऐसे में 45 मिनट के बाद काम से 5 मिनट के लिए जरूर ब्रेक लें। स्‍ट्रेचिंग जरूर करें। इससे काफी हद तक रिलैक्स महसूस करेंगे।  

- एक्‍स्‍ट्रा फैट से बचें - दरअसल, लंबे वक्त तक बैठने से बॉडी में फैट भी बढ़ने लगता है। इस वक्त रहते कम करना बेहद जरूरी है। अन्यथा आपका वजन बढ़ता ही जाएगा और बॉडी भी फैल जाएगी। इसके लिए अधिक से अधिक पानी पीए।  और खाना खाने के बाद 15 मिनट जरूर वॉक करें।  

- हल्का भोजन - 9 घंटे तक बैठकर काम करते हैं तो हल्का भोजन ही करें। अधिक से अधिक हरी सब्जियों का सेवन करें। और नाश्ते में गाय का दूध पीए। इससे शरीर में विटामिन डी की पूर्ति होती है। जी हां, ऑफिस जाने वाले लोग 9 से 6 के बीच ऑफिस रहते हैं। जिस वजह से वह धूप नहीं ले पाते है। और शरीर में विटामिन डी की कमी होने से कई सारे नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं।  


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

World Cancer Day : कैंसर पेशेंट को मोटिवेट नहीं जागरूक करने की जरूरत है....