पीरियड्स के दौरान करें केवल हल्का-फुल्का व्यायाम

- नेहा रेड्‍डी

पीरियड्स के समय महिलाओं के शरीर में कई तरह के बदलाव देखे जाते हैं। इस समय कुछ महिलाओं को तकलीफ भी होती है, जैसे कमर दर्द व चिड़चिड़ापन।
 
ऐसी तकलीफें महिलाओं में आमतौर पर देखी जाती हैं और ऐसे दर्द में या पीरियड्स के दौरान व्यायाम करना ठीक है कि नहीं, ये कन्फ्यूजन भी काफी देखा गया है। एक तो पीरियड्स का समय और ऊपर से शरीर में दर्द। लेकिन जो महिलाएं फिटनेस फ्रीक हैं, वे खुद को वर्कआउट करने से रोक नहीं पातीं। लेकिन ये कन्फ्यूजन भी उनको परेशान करता है कि इस दौरान व्यायाम करना ठीक है कि नहीं? तो आइए जानते हैं।
 
मासिक धर्म के दौरान व्यायाम करने की मनाही नहीं होती, पर आपको इस दौरान हल्की एक्सरसाइज करनी चाहिए। यदि आप जिम जाती हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि आप इस दौरान (पीरियड्स के समय) हैवी एक्सरसाइज न करें और वजन न उठाएं।

 
पीरियड्स के दौरान अगर आप व्यायाम करती हैं तो इससे आपका मूड भी अच्छा रहेगा, साथ ही आप फ्रेश भी महसूस करेंगी। इस समय अगर आप हल्का व्यायाम करती हैं तो आपको दर्द से आराम मिलेगा, साथ ही इस बात पर भी ध्यान देना जरूरी है कि यदि आपको दर्द ज्यादा है तो जबरदस्ती वर्कआउट न करें और खुद को आराम दें।
 
पीरियड्स के दौरान सबसे अच्छा व्यायाम होता है- वॉकिंग, स्ट्रचिंग, एरोबिक्स, बिना वजन उठाए व्यायाम। ऐसी एक्सरसाइज को करके आप अच्छा महसूस करेंगी।
 
 
पीरियड्स शुरू होने के कुछ दिन पहले या इस दौरान मूड स्विंग भी होते हैं, लेकिन यदि आप अकेले बैठकर ध्यान करें (मेडिटेशन) तो आपका मूड अच्छा रहेगा। साथ ही यदि आपको ऐसा लग रहा कि आप व्यायाम योग से ब्रेक लेना चाहती हैं, तो आप अपने मन की सुनें और इस दौरान सिर्फ अपने शरीर को आराम दें।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मेकअप के कुछ खास टिप्स अपनाएं, खूबसूरत बन जाएं