Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

PM YUVA Mentorship Scheme प्रतियोगिता में देश के 75 युवा लेखकों का सिलेक्‍शन, हर महीने मिलेंगे 50 हजार, 6 महीने में 3 लाख, यह थी योजना

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 28 दिसंबर 2021 (13:11 IST)
PM YUVA mentorship Scheme Result: नेशनल बुक ट्रस्ट ने ‘भारत का राष्ट्रीय आंदोलन’ विषय पर आयोजित अखिल भारतीय प्रतियोगिता के परिणामों की घोषणा कर दी है। आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रमों के अंतर्गत पीएम-युवा मेंटरशिप योजना (PM YUVA Mentorship Scheme) के तहत इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। प्रतियोगिता में 75 युवा लेखकों का चयन किया गया है।

'भारत का राष्ट्रीय आंदोलन' विषय पर आयोजित अखिल भारतीय प्रतियोगिता के परिणामों में जिन 75 युवा लेखकों का चयन किया गया है उनमें 38 पुरुष और 37 महिलाएं शामिल हैं।

योजना के अनुसार, इस प्रतियोगिता के माध्यम से 30 वर्ष से कम आयु के युवा लेखकों के लिए छात्रवृत्ति और परामर्श योजना के लिए 75 लेखकों का चयन किया जाना था।

MyGov और राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारत के माध्यम से इस वर्ष 1 जून से लेकर 31 जुलाई तक अखिल भारतीय प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में 22 आधिकारिक भाषाओं और अंग्रेजी में लगभग 16,000 प्रविष्टियां पूरे देश से प्राप्त हुईं, जिनमें कुछ भारतीय प्रवासी समुदाय से भी शामिल थें। सभी पुस्तक प्रस्तावों को विशेषज्ञों के पैनल द्वारा पढ़ा गया और कई स्तर की जांच की गई।

31 जनवरी, 2021 को आकाशवाणी पर ‘मन की बात’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था, “मैं अपने युवा मित्रों से हमारे स्वतंत्रता सेनानियों, उनसे जुड़ी घटनाओं और स्वतंत्रता संग्राम के दौरान वीरता की कहानियों के बारे में लिखने का आह्वान करता हूं”

पीएम मोदी के इस ऐलान के बाद युवा लेखकों के लिए पीएम-युवा मेंटरशिप योजना पर शिक्षा मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय पुस्तक न्यास के साथ मिलकर काम शुरू किया गया था।

‘भारत का राष्ट्रीय आंदोलन’ विषय पर आयोजित अखिल भारतीय प्रतियोगिता के परिणामों में जिन 75 युवा लेखकों का चयन किया गया है उनमें 38 पुरुष और 37 महिलाएं शामिल हैं। इन प्रतिभागियों में दो लेखक 15 वर्ष से कम आयु के हैं, जबकि 15-20 वर्ष के आयु वर्ग में 16 लेखक हैं। 21-25 वर्ष के आयु वर्ग 32 लेखक हैं और 25 लेखक 26-30 वर्ष के आयु वर्ग में हैं।

चयनित लेखकों को छह महीने की मेंटरशिप दी जाएगी जिसमें उन्हें प्रख्यात लेखकों और नेशनल बुक ट्रस्ट की संपादकीय टीम के मार्गदर्शन में अनुसंधान और संपादकीय सहायता प्रदान की जाएगी। युवा लेखकों के पुस्तक प्रस्तावों को पूर्ण पुस्तकों के रूप में प्रकाशित किए जाने पर कार्य किया जाएगा। आजादी का अमृत महोत्सव पहल के हिस्से के रूप में एनबीटी उनकी प्रकाशित पुस्तकों का अन्य भारतीय भाषाओं में भी अनुवाद करेगा।

मेंटरशिप के दौरान, चयनित लेखकों को 6 महीनों के लिए प्रति माह 50,000 रुपये की छात्रवृत्ति मिलेगी। इसके अलावा, लेखकों को उनकी पुस्तकों के सफल प्रकाशन पर 10 फीसदी की रॉयल्टी दी जाएगी।

29 मई 2021 के दिन शिक्षा मंत्रालय के उच्च शिक्षा विभाग ने युवा लेखकों को प्रोत्साहित करने के लिए युवा प्रधानमंत्री योजना 2021 की घोषणा की थी।

‘भारत का राष्ट्रीय आंदोलन’ विषय पर आयोजित प्रतियोगिता में 30 वर्ष की आयु से कम उम्र वाले लेखकों को मेंटरशिप स्कीम के तहत 5,000 शब्दों की मैन्युस्क्रिप्ट तैयार करनी थी। इस मैन्युस्क्रिप्ट के आधार पर राष्ट्रीय पुस्तक न्यास (एनबीटी) द्वारा गठित एक समिति द्वारा यह तय करना था कि प्रतिभागी किताब लिखने के काबिल है या नहीं।


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Central Reserve Police Force Day : केंद्रीय आरक्षी पुलिस बल दिवस क्यों मनाया जाता है?