Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

ठंड का विशेष जायका : मैथी के पराठे, पढ़ें 4 प्रकार की विधि

webdunia
ठंड के मौसम में मैथी की भरमार होती है, इसलिए इस मौसम में मैथी पराठे प्रमुखता से बनाए जाते हैं। मध्यप्रदेश के अलावा गुजरात, महाराष्ट्र और राजस्थान में भी सर्दी के मौसम में मैथी के पराठे खूब पसंद किए जाते हैं, लेकिन हर जगह इसे बनाने का तरीका अलग-अलग होता है। जा‍निए कैसे बनाते हैं इन प्रदेशों में मैथी के पराठे - 
 
1 मैथी पराठा - यह सामान्य मैथी का पराठा है, जो खास तौर से सर्दी के मौसम में मध्यप्रदेश के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी बनाया जाता है। सामान्य मसालों और गेहूं के आटे के साथ इसे बनाया जाता है। इसके लिए लगने वाली सामग्री - 
 
1  गेहूं का आटा - 1 कप 
2  बेसन - 1/4 कप 
3  लाल मिर्च - 1/4 छोटी चम्मच
4  हल्दी पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच
5  अजवायन - 1/4 छोटी चम्मच
6  अदरक - पिसा हुआ, स्वादनुसार 
7  लहसुन - पिसा हुआ, स्वादनुसार 
8  नमक - स्वादनुसार 
 
विधि ‍- गेहूं के आटे में बेसन और बारीक कटी हुई मैथी डाल सभी मसाले मिलाएं और आटा गूंथ लें। आटा गूंथते समय इसमें जरा सा तेल भी डाल लें। अब इसकी लोईयां बनाकर पराठे बनाएं और तवे पर सेकें। दोनों तरफ हल्का सा सिकने पर तेल लगाएं और फिर से सेकें। सही तरीके से सिकने पर चटनी, अचार या सब्जी के साथ परोसें।
 
 
2 मैथी का थेपला - मैथी के पराठे बनाने का यह तरीका गुजरात में अपनाया जाता है। इसे बनाने में लगभग वही सामग्री लगती है, जो सामान्य मैथी का पराठा बनाने में लगती है। बस इसमें कुछ सामग्र‍ियों को अतिरिक्त मिलाया जाता है, जिनमें दही और शक्कर प्रमुख हैं। 
 
आवश्यक सामग्री - 
गेहूं का आटा - 1 कप 
बेसन - 1/4 कप
मैथी - 1/2 कप
दही - 1/4 कप
तेल - 1/4 कप 
धनियां - 1/2 चम्मच
नमक - स्वादनुसार
अजवायन - 1/4 छोटी चम्मच
लाल मिर्च - 1/4 छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच
 
विधि - 
गेहूं के आटे को किसी बर्तन में निकाल लीजिये, बेसन, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, नमक, अजवायन, कटी हुई मैथी, दही, शकर और तेल डालकर अच्छी तरह मिला लीजिए। अब पानी की सहायता से नरम आटा गूथ लीजिए और इसे  कुछ समय के लिए ढंककर रख दीजिए। 
 
अब हाथ पर थोड़ा-सा तेल लगाकर आटे को मसल कर चिकना करें और लोई बनाकर इसे गोल आकार में पतला बेल लीजिए।
 
गरम तवे पर थोडा़ सा तेल डालकर फैलाएं और थेपला को तवे पर डाल दीजिए। जब यह थोड़ा सिक जाए तो पलट दीजिए और तेल लगाइए। अब थेपला को पलटकर दूसरी ओर भी तेल लगाएं। अब हल्की आंच पर इसे सेकें और सिके मैथी थेपला को गर्मागर्म परोसें। 
 
3 बाजरा मैथी पराठा - गुजरात के कुछ क्षेत्रों में मैथी का पराठा बनाते समय विशेष रूप से बाजरे का आटा, दही और शकर का प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा राजस्थान के कुछ क्षेत्रों में भी मैथी के पराठे में बाजरे का आटा मिलाया जाता है, लेकिन यहां शकर का प्रयोग नहीं होता।
 
सामग्री:  
बाजरा - एक कप  
मैथी की पत्ति‍यां
लहसुन- किसा या पिसा हुआ  
दही - एक चम्मच 
चीज - आधा चम्मच 
हल्दी - जरा सी 
कसूरी मैथी - एक चौथाई कप 
धनिया पाउडर - तीन चम्मच 
एक कटा हुआ टमाटर
साथ में नमक आवश्यकता अनुसार. 
 
विधि: मैथी एवं लहसुन में नमक डालकर एक साथ मिला लें। अब इसमें बाजरे का आटा, दही और गर्म पानी मिलाकर गूंथ लें। फिर हल्दी ,कसूरी मैथी पाउडर, चीज एवं कटा हुआ टमाटर मिलाएं और आटे को चार भागों में बांटकर इसकी रोटियां बनाएं, अब इसे तवे पर हल्का तेल डालकर सेक लें। 
 
 
4 :मैथी के पराठे बनाते समय मैथी को दो तरीकों से आटे में मिलाया जा सकता है। आप चाहें तो मैथी को बारीक काटकर आटे में मिला दीजिए। या फिर मैथी, अदरक, लहसुन और हरी मिर्च को एक साथ पीसकर आटे में मिलाकर गूंथ सकते हैं। इसमें अपने स्वादनुसार सूखे मसाले जैसे - लाल मिर्च, हल्दी, जीरा, नमक, अमचूर आदि मिला सकते हैं। इसके अलावा पराठे बनाने की विधि एक समान ही होगी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ठंड के दिनों में जरूर जानिए सूखी अदरक यानि सौंठ के 11 फायदे