शुरू हुआ श्री पितरेश्वर हनुमान धाम का महाभोज, 10 लाख लोगों के लिए महाप्रसादी

मंगलवार, 3 मार्च 2020 (17:11 IST)
इंदौर। देश के करोड़ों लोगों की आस्था आज भी हनुमानजी में हैं। श्री पितरेश्वर हनुमान धाम में अतिरुद्र महायज्ञ में 24 लाख आहुतियां पूरी होने के बाद भगवान को भोग अर्पित करने के बाद 10 लाख लोगों के 'नगर भोज' की शुरुआत हो गई। शाम 4 बजे से शुरू हुआ यह नगर भोज देर रात तक चलेगा।
 
करीब 10 स्थानों पर नगर भोज का आयोजन किया जा रहा है। 50 ट्रैक्टरों से भोजन पहुंचाया जा रहा है। सारी व्यवस्था को खुद भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय देख रहे हैं। नगर भोज का आयोजन बड़ा गणपति से लेकर श्री पितरेश्वर हनुमान धाम तक के 7 किमी लंबे मार्ग पर किया जा रहा है।
 
5 हजार कार्यकर्ता इस बात ट्रैफिक की व्यवस्था को भी संभाले हुए हैं। ये कार्यकर्ता इस बात का ध्यान रख रहे हैं कि राहगीरों और प्रसादी ग्रहण करने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेशानी न हो।
 
महाप्रसादी बनाने के लिए इंदौर के अलावा रतलाम, दाहोद, कोटा, जयपुर, बांसवाड़ा और जयपुर से भी हलवाइयों को बुलाया गया है। 2000 डिब्बे शुद्ध घी, 90 टंकी तेल, 1000 क्विंटल आटा, 1000 क्विंटल शक्कर, 500 क्विंटल बेसन, 500 क्विटन आलू, 500 क्विंटल सब्जी, 500 किलो मसाले व अन्य खादय सामग्री से महाप्रसादी तैयार की गई है।
 
कैलाश विजयवर्गीय ने महाप्रसादी बनाने में सेवा की। माता अन्नपूर्णा की प्रतीक के रूप में 2000 हजार महिलाएं भी प्रसाद वितरित कर रही हैं। यह दुनिया का सबसे बड़ा नगर भोज होगा। एक वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनेगा जब लाखों लोग एक साथ बैठकर महाप्रसादी को ग्रहण करेंगे।

यह भी पढ़ें
webdunia-ad

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख इंदौर का पितरेश्वर हनुमान धाम बना आस्था का सबसे बड़ा केंद्र बिंदु