पांच देशों के पास बचा है दुनिया के 70 प्रतिशत जंगलों का हिस्सा, क्या बढ़ रहा है खतरा...

गुरुवार, 1 नवंबर 2018 (16:44 IST)
दुनिया भर में आबादी का घनत्व तेजी से बढ़ता जा रहा है। साथ ही औद्योगिकीकरण भी। इसका नतीजा यह हो रहा है कि जंगल धीरे-धीरे नष्ट होते जा रहे हैं। हाल ही में हुए एक  रिसर्च में सामने आया कि दुनिया के पांच देशों के पास 70 प्रतिशत जंगल बचे हैं, जो इंसानी पहुंच से दूर हैं। यह रिपोर्ट खौफ पैदा करने वाली है। तेजी से बढ़ते शहरीकरण से हमारे जंगल खत्म होते जा रहे हैं। इसे हमारा पर्यावरण संतुलन बिगड़ता जा रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इन जंगलों की बचाने की आवश्यकता है।
 
क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी (UQ) और वाइल्ड लाइफ कन्वर्सन सोसाइटी (WCS) ने दुनिया का एक मानचित्र जारी किया है, जिसमें बताया गया है कि कौनसे देशों में औद्योगिक गतिविधियों के कारण जंगल तेजी से नष्ट होते जा रहे हैं। रिसर्च में अंटार्कटिका और समुद्री तटों के जंगलों को छोड़ दिया गया है। 
 
UQ और WCS के प्रकाशित एक नेचर जनरल में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, ब्राजील, रूस, कनाडा में बड़ी संख्या में घनत्व वाले जंगल बचे हैं। 2016 में वैज्ञानिकों की टीम ने यह डेटा इकट्ठे किए थे। 2018 में यह जांच भी की गई कि विश्व के कौनसे समुद्र मानव गतिविधियों के कारण प्रभावित हुए।
 
इस जांच में यह भी सामने आया कि 77 प्रतिशत भूमि (अंटार्कटिका शामिल है) और 87 प्रतिशत समुद्र की स्थितियों में मानवीय गतिविधियों के कारण बदलाव हुए। इस रिसर्च के मुख्य लेखक जेम्स वाटसनके मुताबिक हमने दो साल पहले जंगल का पहला विश्लेषण किया था। 
 
नई रिसर्च में हमने दुनियाभर का एक मानचित्र बनाया और यह पता लगाने की कोशिश की कि इन बिगड़ती परिस्थियों के लिए कौन जिम्मेदार है। विश्लेषकों के मुताबिक पृथ्वी ग्रह के शेष बचे जंगलों को संरक्षित किया जाना आवश्यक है। वॉटसन के मुताबिक दुनिया के देशों को उद्योगों को ऐसे स्थानों पर जाने से रोकना होगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING