मोदी के रंग में रंगे दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति, यह तोहफा पाकर नहीं रहा खुशी का ठिकाना

बुधवार, 31 अक्टूबर 2018 (17:29 IST)
सोल। विशेष सद्भाव के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहुत बारीकी से तैयार किए गए कुछ ‘मोदी जैकेट’ दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन को भेंट किए हैं जिन्होंने जुलाई में भारत की अपनी पहली राजकीय यात्रा के दौरान इसके प्रति अपनी पसंद जाहिर की थी।
 
सरकारी संवाद समिति योन्हैप ने खबर दी है कि मोदी जैकेट बिना बांह के जैकेट हैं जिन्हें मोदी सामान्यत: पहनते हैं। राष्ट्रपति मून ने ये जैकेट भेजने पर मोदी को धन्यवाद दिया। मोदी ने ट्विटर पर मून को जैकेट पहने उनकी तस्वीरें भी अपलोड कीं और कहा, 'उन पर ये बहुत जंचते हैं।' 
 
मून ने ट्वीट किया, 'भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुझे कुछ शानदार कपड़े भेजे। ये ‘मोदी जैकेट’ के नाम से चर्चित पारंपरिक भारतीय परिधान के आधुनिक संस्करण हैं जो आसानी से कोरिया में सिले जा सकते हैं। वे बिल्कुल जंचते हैं।' 
 
उन्होंने ट्वीट किया, 'भारत की मेरी यात्रा के दौरान मुझसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मेादी ने कहा कि आप इन जैकेट में बहुत जंचते हैं और उन्होंने मुझे विधिवत भेज दिए, सारे मेरी साइज के हिसाब से तैयार किए गए हैं। मैं इस सद्भाव के लिए आपको धन्यवाद देना चाहूंगा।' मून के ट्विटर एकाउंट पर दूसरी तस्वीर में विभिन्न रंगों के चार मोदी जैकेट प्रदर्शित किए गए हैं।
 
जुलाई में मून भारत की पहली सरकारी यात्रा पर आए थे जिस दौरान उन्होंने कोरियाई प्रायद्वीप में स्थिति तथा द्विपक्षीय व्यापार एवं रक्षा सहयोग बढ़ाने के तौर तरीके जैसे अहम मुद्दों पर मुद्दों के साथ बातचीत की थी।
 
मून ने मोदी को अपने आर्थिक दृष्टिकोण से विश्वशांति में योगदान देने इस साल का सोल शांति पुरस्कार के लिए चुने जाने पर बधाई दी। 
 
मून ने ट्वीट किया, 'सोल शांति पुरस्कार पाने पर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किये ट्वीट मैंने पढ़े हैं। वे कोरियाई में लिखे गये हैं और मैं उनके इस विचारशीलता से भाव विह्वल हो गया। मैं प्रधानमंत्री मोदी को अपनी हार्दिक बधाई देना चाहूंगा।' 
 
पिछले हफ्ते मोदी को अंतरराष्ट्रीय सहयोग एवं वैश्विक आर्थिक वृद्धि में उनके योगदान को लेकर 2018 में सोल शांति पुरस्कार प्रदान किया गया था। (भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING