तुर्की ने दिया 61 सैनिकों को हिरासत में लेने का आदेश

सोमवार, 24 सितम्बर 2018 (23:05 IST)
इस्तांबुल। तुर्की सरकार ने नौसेना और थलसेना के 61 सैनिकों को धार्मिक नेता फतेहुल्ला गुलेन के साथ संपर्क रखने के आरोप में हिरासत में लेने का आदेश दिया है।
 
 
सरकारी संवाद समिति अनादोलू ने सोमवार को बताया कि 2016 में तख्तापलट की असफल कोशिश की साजिश रचने के आरोपी गुलेन के साथ संपर्क रखने के मामले में 61 सैनिकों को हिरासत में लिया गया है। संवाद समिति ने बताया कि जिन सैनिकों को हिरासत में लिया गया, उनमें से 18 ड्यूटी पर सक्रिय थे। संदिग्धों में थलसेना के 13 मेजर और 12 कैप्टन रैंक के अधिकारी और नौसेना के 24 फर्स्ट लेफ्टिनेंट शामिल हैं।
 
तुर्की सरकार जुलाई 2016 में तख्तापलट की कोशिश के बाद से गुलेन नेटवर्क के कथित सदस्यों के खिलाफ नियमित तौर पर कार्रवाई करती रही है। तख्तापलट के इस प्रयास के दौरान 250 लोग मारे गए थे। एक अन्य अभियान में इस्तांबुल पुलिस ने 21 लोगों को इस नेटवर्क के एनक्रिप्टेड मैसेजिंग एप्लीकेशन का इस्तेमाल कर रहे 21 लोगों को हिरासत में लिया है। हिरासत में लिए गए ज्यादातर लोग शिक्षक हैं, जो एक समय गुलेन नेटवर्क के स्कूलों अथवा सार्वजनिक संस्थानों में पढ़ाते रहे हैं।
 
तुर्की के पश्चिमी सहयोगी तख्तापलट के प्रयास के बाद की गई उसकी कार्रवाई की आलोचना करते रहे हैं। तुर्की में जुलाई 2016 के बाद से जुलाई 2018 तक आपातकाल लगा रहा है और इसी दौरान कथित तौर पर तख्तापलट की कोशिश में लिप्त रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING