इस्लामिक स्टेट से जुड़े एक आतंकवादी संगठन ने ली 5 सहायताकर्मियों की हत्या की जिम्मेदारी

शुक्रवार, 24 जुलाई 2020 (08:49 IST)
डकार (सेनेगल)। आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट से संबद्ध एक अन्य संगठन ने पिछले महीने पूर्वोत्तर नाइजीरिया से अगवा किए गए 5 सहायताकर्मियों की हत्या की जिम्मेदारी ली है। कई वर्ष पहले बोको हराम से अलग होकर बने 'द इस्लामिक स्टेट वेस्ट अफ्रीका प्रॉविंस' ने जून में चेतावनी दी थी कि वह अंतरराष्ट्रीय सहायता समूहों और सेना की मदद करने वाले नाइजीरियाई लोगों को निशाना बनाएगा।
ALSO READ: जम्मू-कश्मीर के शोपियां में 4 आतंकी ढेर, 24 घंटों में 7 को मार गिराया
नाइजीरिया के राष्ट्रपति सहायताकर्मियों की हत्या के लिए पहले ही कट्टरपंथियों को जिम्मेदार ठहरा चुके हैं। कट्टरपंथी संगठनों पर नजर रखने वाले खुफिया समूह एसआईटीई के अनुसार संगठन ने अपने डिजिटल साप्ताहिक समाचार पत्र अल-नबा में सहायताकर्मियों की हत्या की जिम्मेदारी ली।
 
एसआईटीई के अनुसार इन सहायताकर्मियों की हत्या रविवार को की गई और इसके बाद हत्या का वीडियो सोशल मीडिया पर डाला गया। इस घटना से पूर्वोत्तर नाइजीरिया में चल रहे राहत प्रयासों को झटका लग सकता है, जहां आतंकवाद के चलते कम से कम 20 लाख लोग विस्थापित हुए हैं।
 
गौरतलब है कि सहायताकर्मी जब मोनगुनो और राजधानी मैदुगुड़ी के बीच एक मुख्य सड़क से गुजर रहे थे तभी उनका अपहरण किया गया था। नाइजीरिया के राष्ट्रपति मुहम्मदू बुहारी ने एक बयान जारी कर मृतकों की पहचान देश के 'स्टेट इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी', 'इंटरनेशनल चैरटीज़ एक्शन एगेंस्ट हंगर', 'रिच इंटरनेशनल एंड इंटरनेशनल रेस्क्यू कमेटी' के सदस्यों के तौर पर की है।
 
नाइजीरिया में संयुक्त राष्ट्र के मानवीय समन्वयक एडवर्ड कैलन ने कहा कि वे प्रतिबद्ध मानवतावादी थे जिन्होंने हिंसा से प्रभावित क्षेत्र में कमजोर लोगों और समुदायों की मदद करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख बकरीद पर कुर्बानी के समर्थन में आए दिग्विजय सिंह,लॉकडाउन में छूट देने की मांग