कोलंबियाई पुलिस अकादमी में कार बम हमला, 21 लोगों की मौत

शुक्रवार, 18 जनवरी 2019 (09:10 IST)
बोगोटा। कोलंबिया के बोगोटा की एक पुलिस कैडेट प्रशिक्षण अकादमी में बृहस्पतिवार को हुए कार बम हमले में कम से कम 21 लोगों की मौत हो गई और 68 अन्य घायल हो गए। कोलंबिया की राजधानी में पिछले 16 साल में हुआ यह सबसे भीषण हमला है।
 
रक्षा मंत्रालय ने बताया कि विस्फोटकों से भरे एक वाहन का इस्तेमाल करके ‘आतंकवादी हमला’ किया गया। वाहन में 80 किलोग्राम विस्फोटक था। कोलंबियाई पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘दुर्भाग्यवश, मृतकों की शुरुआती संख्या देखें तो 21 लोग मारे गए हैं जिसमें घटना के लिए जिम्मेदार शख्स भी शामिल है। 68 लोग जख्मी हुए हैं।’
 
बयान के मुताबिक, घायल हुए 58 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। रक्षा मंत्रालय ने पहले बताया था कि 11 लोग मारे गए हैं और 65 जख्मी हुए हैं।
 
कोलंबिया के राष्ट्रपति इवान डुक ने ट्वीट किया, ‘सभी कोलंबियाई आतंकवाद को खारिज करते हैं और इसके खिलाफ लड़ाई में हम एकजुट हैं।’ बाद में राष्ट्र के लिए जारी एक बयान में डुक ने कहा था कि उन्होंने कोलंबिया की सीमाओं और शहरों तक जाने वाले हर रास्ते तक जरूरी साजोसामान पहुंचाने के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा, ‘मैंने यह अनुरोध भी किया है कि सभी जांच को प्राथमिकता दी जाए...ताकि इस हमले के मास्टरमाइंड और उसके साथियों की पहचान की जा सके।’ राष्ट्रपति ने कहा, ‘कोलंबिया दु:खी है, लेकिन हिंसा के आगे सिर नहीं झुकाएगा।’ 
 
अधिकारियों ने हमलावर के मारे जाने की पुष्टि की है। उसने जनरल फ्रांसिस्को डी पाउला सेंटेंडर ऑफिसर स्कूल में कैडेट के प्रोन्नति समारोह के दौरान हमला किया। अभी तक किसी ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन सरकारी अभियोजक नेस्टर हमबर्तो मार्टिनेज ने संदिग्ध के तौर पर जोस अल्दामेर रोजस रॉड्रिग्ज का नाम लिया है। मार्टिनेस ने कहा कि रोजस रॉड्रिग्ज सुबह साढ़े नौ बजे स्कूल परिसर में वाहन लेकर घुसा।
 
रक्षा मंत्रालय ने कहा कि ‘इस आतंकवादी कृत्य के लिए जिम्मेदार लोगों का पता लगाने’ के लिए जांच शुरू की गई है। इक्वाडोर के राष्ट्रपति लेनिन मोरेनो ने बताया कि मृतकों में उनके देश का भी एक कैडेट है और एक अन्य कैडेट मामूली रूप से घायल है। लातिन अमेरिकी मामलों के लिए अमेरिका के सहायक विदेश मंत्री किमबर्ली ब्रीएर ने हमले की निंदा की और पीड़ितों के प्रति संवेदना प्रकट की। बोगोटा में अमेरिका के दूतावास ने हमले की जांच में मदद करने की पेशकश की है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सीओए ने कोर्ट से कहा, राहुल और पांड्या मामले में हो लोकपाल की नियुक्त