Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

QUAD देशों की पहली बैठक, मोदी बोले- क्वॉड से आएगी विश्‍व में शांति और समृद्धि

webdunia
शनिवार, 25 सितम्बर 2021 (00:38 IST)
वॉशिंगटन। क्वॉड (QUAD) देशों भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्राध्यक्षों की पहली इन-पर्सन मीटिंग व्हाइट हाउस में जारी है। खास बात यह है कि चारों देशों के क्वाड समूह की यह पहली बैठक है। इस मुलाकात में चारों राष्ट्रों के बीच कोरोनावायरस वैक्सीन और सुरक्षा समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई। इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने क्वॉड की पहली इन-पर्सन बैठक बुलाने के लिए बाइडेन का शुक्रिया अदा किया।

बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, मुझे विश्वास है कि क्वॉड ग्रुप विश्व में शांति और समृद्धि सुनिश्चित करने में अहम भूमिका अदा करेगा। इस दौरान मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, जापान के प्रधानमंत्री येशिहिदे सुगा और ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन का अभिवादन किया। क्वॉड की बैठक के दौरान भारत की जोरदार तारीफ हुई।

बैठक में मोदी ने कहा कि क्वॉड से विश्‍व में शांति और समृद्धि आएगी। आज दुनिया कोरोना महामारी से लड़ रही है। इसलिए चारों देश एक बार फिर मानवता के कल्याण के लिए क्वाड के रूप में साथ आए हैं। अमेरिका की पॉलिसी पूर्वी एशिया में चीन को काबू करने की है।
ALSO READ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका पहुंचे, वॉशिंगटन एयरपोर्ट पर गूंजा मोदी-मोदी
इसी वजह से वह QUAD को इंडो-पैसिफिक रीजन में फिर से दबदबा हासिल करने के अवसर के तौर पर देखता है। ऑस्ट्रेलिया को अपनी जमीन, इन्फ्रास्ट्रक्चर, पॉलिटिक्स में चीन की बढ़ती रुचि और यूनिवर्सिटीज में उसके बढ़ते प्रभाव को लेकर चिंता है। अनुमान लगाए जा रहे हैं कि इस बैठक में सुरक्षा की स्थिति से लेकर देशों के बीच आर्थिक सहयोग और पर्यावरण संकट पर चर्चा की जा सकती है।
ALSO READ: 10 बड़ी बातें, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बनाती हैं एक सफल राजनेता
वहीं दूसरी ओर क्‍वॉड मीटिंग की खबर पर चीन ने भी प्रतिक्रिया दी है। चीन का कहना है कि उसे उम्मीद है कि यह चर्चा क्षेत्र में शांति स्थापित करने के लिए होगी, न कि इसके 'विरोध' में। भारत की तरह ही चीन भी वैक्सीन कूटनीति में लगा हुआ है। हालांकि इस बार क्‍वॉड बैठक के बाद जारी संयुक्त घोषणा पत्र में हिंद प्रशांत महासागर में चीन के आक्रामक रवैए को लेकर सीधा व कड़ा जबाव दिया जा सकता है।

उल्‍लेखनीय है कि QUAD यानी क्वॉड्रिलैटरल सिक्योरिटी डॉयलॉग 4 देशों का समूह है। इसमें अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, भारत और जापान शामिल हैं। इन चारों देशों के बीच समुद्री सहयोग 2004 में आई सुनामी के बाद शुरू हुआ था। QUAD का आइडिया 2007 में जापान के उस वक्त के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने दिया था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारत-अमेरिकी रिश्तों के नए अध्याय की शुरुआत, मोदी-बाइडेन मुलाकात में कई मुद्दों पर चर्चा