भारत के 91 प्रतिशत नए कम्प्यूटर पायरेटेड सॉफ्टवेयर पर चल रहे : माइक्रोसॉफ्ट

शनिवार, 3 नवंबर 2018 (00:14 IST)
सिंगापुर। माइक्रोसॉफ्ट के मुताबिक उसकी तरफ से भारत से खरीदे गए नए पर्सनल कम्प्यूटरों में 90 प्रतिशत से अधिक में पायरेटेड (चोरी के) सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल का स्तर काफी ऊंचा था। कंपनी के एक विश्लेषण में भारत सहित 9 एशियाई देशों में निजी कम्प्यूटर में इंस्टॉल कई सॉफ्टवेयर पायरेटेड पाए गए।
 
 
माइक्रोसॉफ्ट ने इस साल मई से जुलाई के बीच भारत सहित अन्य देशों से निजी कम्प्यूटर खरीदे और उसके बाद उनका परीक्षण किया। परीक्षण से प्राप्त आंकड़ों के विश्लेषण में पाया गया कि 9 देशों से खरीदे गए 83 फीसदी से अधिक कम्प्यूटरों में पायरेटेड सॉफ्टवेयर इंस्टॉल है।
 
परीक्षण दिखाते हैं कि भारत से खरीदे गए 91 प्रतिशत नए कम्प्यूटर में पायरेटेड सॉफ्टवेयर पाए गए। इसके बाद इंडोनेशिया (90 प्रतिशत), ताईवान (73 फीसदी), सिंगापुर (55 प्रतिशत) और फिलिपींस (43 प्रतिशत) का नंबर आता है, वहीं सबसे बुरे आंकड़े दक्षिण कोरिया, मलेशिया, वियतनाम और थाईलैंड के रहे। इन देशों से खरीदे गए शत-प्रतिशत कम्प्यूटरों में पायरेटेड सॉफ्टवेयर पाए गए। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING