अमेरिका में भारतीय छात्र गिरफ्तार, फर्जी विश्वविद्यालय में कर रहे थे पढ़ाई

गुरुवार, 31 जनवरी 2019 (11:18 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका में संघीय अधिकारियों ने पिछले दो दिन में अनेक छापे मारकर कई भारतीयों को गिरफ्तार किया है। ये लोग मेट्रो डेट्रॉइट इलाके के एक कथित फर्जी विश्वविद्यालय में छात्र के रूप में पंजीकृत थे और देशभर में काम कर रहे थे। छात्रों का प्रत्यर्पण किया जा सकता है।


अमेरिकी आव्रजन एवं सीमा शुल्क प्रवर्तन (आईसीई) ने ये छापे कोलंबस, ह्यूस्टन, अटलांटा, सेंट लुईस, न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी आदि शहरों में मारे। आईसीई ने गिरफ्तारी से जुड़े सवालों और इसके कारणों को लेकर तुरंत कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

रेड्डी और न्यूमैन समूह के आव्रजन अटॉर्नी ने अपनी वेबसाइट पर पोस्ट किए गए एक बयान में कहा कि उसे रिपोर्ट मिली हैं कि आईसीई ने बुधवार सुबह 6 बजे मिशिगन स्थित फार्मिंगटन विश्वविद्यालय द्वारा अधिकृत पाठ्यक्रम व्यावहारिक प्रशिक्षण (सीपीटी) डे-1 के छात्रों के काम करने की जगहों पर छापेमारी की है।

सीपीटी अमेरिका में विदेशी (एफ-1) छात्रों को रोजगार के लिए दिया जाने वाला विकल्प है। कुछ विश्वविद्यालय विदेशी छात्रों को यह विकल्प मुहैया कराते हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख संसद में राष्‍ट्रपति कोविंद ने पेश किया मोदी सरकार का रिपोर्ट कार्ड...