Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

नहीं रहीं ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ, किंग चार्ल्स सबसे अधिक उम्र में बने राजा

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 9 सितम्बर 2022 (08:07 IST)
लंदन। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के निधन के बाद 73 साल की उम्र में प्रिंस चार्ल्स को ‘महाराज चार्ल्स तृतीय’ के रूप में देश की राजगद्दी पर बैठने का अवसर मिला है। वे ब्रिटेन की राजगद्दी पर बैठने वाले चार्ल्स सबसे अधिक उम्र के राजा होंगे।
 
ब्रिटिश राजशाही के अधिकारियों के मुताबिक, चार्ल्स ‘किंग चार्ल्स थर्ड’ (महाराज चार्ल्स तृतीय) के नाम से राजगद्दी संभालेंगे। चार्ल्स ने ब्रिटिश राजशाही के आधुनिकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
 
चार्ल्स पहले ऐसे शाही उत्तराधिकारी हैं जिनकी शिक्षा घर में नहीं हुई है, साथ ही वह विश्वविद्यालय डिग्री पाने वाले और राजपरिवार और सामान्य जनता के बीच की कम होती दूरियों के दौर में मीडिया की पैनी नजरों के बीच जिंदगी गुजारने वाले भी पहले उत्तराधिकारी हैं।
 
बेहद लोकप्रिय प्रिंसेस डायना के साथ काफी विवादित तलाक के बाद वह काफी अलग-थलग भी पड़े। उन्होंने राज परिवार के सदस्यों को सार्वजनिक मामलों में हस्तक्षेप करने से रोकने वाले नियम की भी कई बार अनदेखी की। उन्होंने पर्यावरण संरक्षण और वास्तुकलाओं के संरक्षण जैसे मुद्दों पर खुलकर चर्चा की।
 
ब्रिटेन की महारानी बनीं कैमिला : ब्रिटेन सात दशक से भी ज्यादा समय के बाद अब चार्ल्स की पत्नी डचेज ऑफ कॉर्नवेल कैमिला ‘महारानी’ कह कर बुलाएगा।
 
वर्षों के तर्क-वितर्क के बाद महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के कारण यह उपाधि तय हुई, वह भी उन्हीं दिनों तय कर ली गई थी जब कैमिला और चार्ल्स एक-दूसरे के करीब आ रहे थे और उनका विवाह नहीं हुआ था। हालांकि, उन्हें यह उपाधि किसी संप्रभुता वाले अधिकार के बिना दी जाएगी।
 
शाही अधिकारियों की मानें तो हालांकि, ब्रिटेन की राजशाही के इतिहास में ‘प्रिंसेस कंसोर्ट’ की उपाधि का कोई उदाहरण नहीं है। इससे मिलती-जुलती उपाधि ‘प्रिंस कंसोर्ट’ सिर्फ एक बार महारानी विक्टोरिया के पति एल्बर्ट के लिए इस्तेमाल की गई थी।
 
लेकिन, जब महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने सार्वजनिक घोषणा की कि उनके पुत्र प्रिंस चार्ल्स के राजा बनने पर कैमिला को ‘क्वीन कंसोर्ट’ की उपाधि दी जाएगी तो यह चर्चा भी समाप्त हो गई।
 
ब्रिटिश रॉयल फैमेली :
1. प्रिंस विलियम : चार्ल्स और दिवंगत राजकुमारी डायना के सबसे बड़े बेटे। उन्होंने डचेस ऑफ कैम्ब्रिज केट शादी की है। उनके तीन बच्चे उत्तराधिकार की पंक्ति में उनके बाद आते हैं।
2. प्रिंस जॉर्ज : कैम्ब्रिज के राजकुमार, जुलाई 2013 में पैदा हुए।
3. प्रिंसेस शैरलट : कैम्ब्रिज की राजकुमारी, मई 2015 में पैदा हुईं।
4. प्रिंस लुइस : कैम्ब्रिज के राजकुमार, अप्रैल 2018 में पैदा हुए।
5. प्रिंस हैरी : चार्ल्स और डायना के छोटे बेटे।
6. आर्ची माउंटबेटन-विंडसर : हैरी और मेघन के बेटे, मई 2019 में पैदा हुए।
7. लिलिबेट माउंटबेटन-विंडसर : हैरी और मेगन की संतान, जून 2021 में जन्मी।
8. प्रिंस एंड्रयू : महारानी एलिजाबेथ द्वितीय और प्रिंस फिलिप के दूसरे बेटे।
9. प्रिंसेस बीट्राइस : एंड्रयू और उनकी पूर्व पत्नी सारा फर्ग्यूसन की बड़ी बेटी।
10. सिएना एलिजाबेथ : बीट्राइस और एडोआर्डो मैपेली मोजी की बेटी, सितंबर 2021 में पैदा हुई।
11. प्रिंसेस यूगिनी : एंड्रयू और सारा फर्ग्यूसन की छोटी बेटी।
12. अगस्त ब्रुकबैंक : फरवरी 2021 में जन्मी यूगिनी और जेम्स ब्रूक्सबैंक की संतान।
13. प्रिंस एडवर्ड : एलिजाबेथ और फिलिप के सबसे छोटे बेटे।
14. जेम्स : एडवर्ड और उनकी पत्नी सोफी के बेटे।
15. लेडी लुइस माउंटबेटन-विंडसर : एडवर्ड और सोफी की बेटी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

दुनिया भर के नेताओं ने दयालु महारानी को दी श्रद्धांजलि, 10 दिन बाद होगा अंतिम संस्कार