बिल क्लिंटन-मोनिका यौन संबंध में हिलेरी बोलीं, इसमें कुछ भी गलत नहीं था...

डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ राष्ट्रपति पद का चुनाव हारने वाली अमेरिका की पूर्व विदेशमंत्री हिलेरी क्लिंटन ने पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और मोनिका लेविंस्की प्रकरण में पति बिल को क्लीन चिट दे दी।
 
दरअसल, एक इंटरव्यू के दौरान एंकर ने 1990 के दशक के बहुचर्चित बिल क्लिंटन और मोनिका लेविंस्की प्रकरण पर सवाल पूछा गया था। हिलेरी ने कहा कि बिल ने कुछ भी गलत नहीं किया था। क्योंकि उस समय की व्हाइट हाउस कर्मचारी मोनिका वयस्क थी। उन्होंने बिल का बचाव करते हुए कहा कि उस बिल के खिलाफ बना माहौल एक साजिश थी, जो कि 'दक्षिणपंथियों' द्वारा रची गई थी। 
 
उल्लेखनीय है कि #MeToo कैंपेन के दौर में दुनियाभर की कई महिलाओं ने शीर्ष लोगों पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर भी करीब 19 महिलाओं ने इस तरह के आरोप लगाए हैं। हालांकि ट्रंप ने इन आरोपों को खारिज किया है। 
 
नौ बार बनाए थे बिल ने लेविंस्की से यौन संबंध : सन 1998 में बिल क्लिंटन और मोनिका के सेक्स स्कैंडल ने अमेरिकी राजनीति में तूफान ला दिया था। मोनिका व्हाइट हाउस में इंटर्न के तौर पर काम करती थीं। मोनिका की उस समय महज 22 साल की थीं। मोनिका लेविंस्की ने खुलासा किया था कि 1995 से 1997 तक उनके और क्लिंटन के बीच नौ बार यौन संबंध बने थे। मोनिका का कहना था कि दोनों ने ही आपसी सहमति से शारीरिक संबंध बनाए थे। 
 
इस बात के सामने आने के बाद क्लिंटन ने पहले तो इस रिश्ते को सिरे से खारिज कर दिया था, लेकिन बाद में उन्होंने अपने नाजायज संबंध सार्वजनिक रूप से कबूल कर लिया था। मोनिका ने एक लेख में लिखा था कि मेरे बॉस ने मेरा फायदा उठाया। मैं हमेशा इस बात पर अडिग रहूंगी कि दोनों के बीच संबंध आपसी सहमति से थे।
 
सेक्स स्कैंडल के बाद मोनिका ने व्हाइट हाउस छोड़ दिया। उसके बाद कुछ दिनों तक हैंडबैग डिजाइनर के तौर पर काम किया। रिपब्लिकन पार्टी ने बिल क्लिंटन पर मोनिका लेविंस्की से अफेयर को लेकर संघीय जांचकर्ताओं से झूठ बोलने का आरोप लगाया। क्लिंटन के खिलाफ महाभियोग भी शुरू किया गया, उन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING