Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

राम मंदिर भूमि पूजन का जश्न मनाने के लिए टाइम्स स्क्वायर पर प्रदर्शित की गई भगवान राम की तस्वीर

webdunia
गुरुवार, 6 अगस्त 2020 (11:54 IST)
न्यूयॉर्क। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन और शिलान्यास का जश्न अमेरिका के मशहूर टाइम्स स्क्वायर पर एक विशाल बिलबोर्ड पर भगवान राम की तस्वीर प्रदर्शित कर मनाया गया। यहां पर जश्न मनाने के लिए लिए बड़ी संख्या में भारतीय समुदाय के लोग भी एकत्रित हुए।
भगवान राम और भव्य मंदिर की तस्वीर और भारतीय तिरंगा विशाल एलईडी डिस्प्ले स्क्रीन पर बुधवार को प्रदर्शित किया गया। आयोजकों को बुधवार सुबह 8 से रात 10 बजे तक इस तस्वीर को प्रदर्शित करना था, लेकिन इसे करीब 4 घंटे बाद दोपहर 1 बजे तक ही प्रदर्शित किया गया।
 
आयोजकों ने राम जश्न नाम की एक वेबसाइट पर कहा कि कट्टरपंथी समूह हमें रोकने की कोशिश कर सकते हैं, लेकिन वे हिन्दुओं को चुप नहीं कर सकते। रात 7.30 बजे टाइम्स स्क्वायर पर आएं और जश्न मनाएं (शाम को तस्वीर प्रदर्शित नहीं की जाएगी)।
प्रमुख सामुदायिक नेता एवं अमेरिकी-भारत लोक मामलों की समिति के अध्यक्ष जगदीश सिहानी ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया था। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन का जश्न मनाने के लिए बड़ी संख्या में भारतीय समुदाय के लोग एकत्रित हुए।
 
न्यूयॉर्क और कई अन्य राज्यों से भारतीय प्रवासी शाम को टाइम्स स्क्वायर पर एकत्रित हुए। आयोजकों ने यहां दीये जलाने, भजन गाने और मिठाइयां बांटने की व्यवस्था की थी। लोग यहां सांस्कृतिक परिधानों में सजे-धजे नजर आए। लोगों ने 'जय श्रीराम' के नारे लगा अपना उत्साह जाहिर किया।
 
सूत्रों ने बताया कि बिलबोर्ड का ठेका लेने वाली कंपनी ने कहा था कि कानूनी बाध्यता के चलते वह राजनीतिक विज्ञापन वहां प्रदर्शित नहीं कर सकती। सूत्रों ने हालांकि कहा कि तस्वीर का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं था। उन्होंने कहा कि केवल 4 घंटे भी भगवान राम की तस्वीर को वहां प्रदर्शित किया जाना ऐतिहासिक है। तस्वीर को पहले पूरे दिन वहां प्रदर्शित किया जाना था।
 
सिहानी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राम मंदिर का निर्माण विश्वभर में हिन्दुओं का सपना पूरा होने जैसा है। 6 साल पहले तक इसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी, लेकिन मोदी के नेतृत्व में यह दिन आया और हम पूरे जोश के साथ इसका जश्न मनाना चाहते हैं। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारतीयों को भुगतना पड़ता है ग्रीन कार्ड की तय सीमा का दंड, अमेरिकी सांसद ने जताया रोष