सरकारें इंटरनेट के विनियमन में अधिक सक्रिय भूमिका निभाएं : जुकरबर्ग

रविवार, 31 मार्च 2019 (17:18 IST)
वॉशिंगटन। सोशल नेटवर्क कंपनी फेसबुक के कार्यकारी अधिकारी मार्क जुकरबर्ग ने कहा है कि सरकारों को इंटरनेट के विनियमन में अधिक सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए। जुकरबर्ग ने उपयोगकर्ता की गोपनीयता की सुरक्षा करने के लिए सभी देशों से यूरोपीय नियमों के व्यापक रूप को अपनाने का आग्रह किया।
 
उन्होंने शनिवार को 'द वॉशिंगटन पोस्ट' में छपे एक लेख में कहा कि मेरा मानना है कि हमें सरकारों और नियामकों के लिए अधिक सक्रिय भूमकिा निभाने की आवश्यकता है। हम इंटरनेट के लिए नियमों को अपडेट करके बहुत कुछ संरक्षित कर सकते हैं जिनमें लोगों को खुद को व्यक्त करने की स्वतंत्रता, उद्यमियों के लिए नई चीजों का निर्माण करने की स्वतंत्रता और समाज की व्यापक हानि से सुरक्षा शामिल है।
 
फेसबुक प्रमुख ने कहा कि हानिकारिक सामग्री, चुनाव की पवित्रता, गोपनीयता और डाटा पोर्टेबिलिटी जैसे 4 क्षेत्रों में नए स्तर से विनियमन की जरूरत है। इंटरनेट से सभी हानिकारक सामग्रियों को निकालना असंभव है लेकिन जब लोग 10 विभिन्न साझा करने वाली सेवाओं का उपयोग करते हैं, तो उन सभी सेवाओं की अपनी अलग नीतियां और कार्य प्रणालियां होती हैं। हमें और अधिक रूप से मानकीकृत दृष्टिकोण की आवश्यकता है।
 
फेसबुक ने इस सप्ताह की शुरुआत में श्वेत राष्ट्रवाद, श्वेत अलगाववाद की प्रशंसा, समर्थन और प्रतिनिधित्व पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी जिसके बारे में सोशल नेटवर्क कंपनी का कहना है कि यह प्रतिबंध अगले सप्ताह से लागू हो जाएगा।
 
फेसबुक का यह बयान 15 मार्च को न्यूजीलैंड में 2 मस्जिदों पर हुए हमलों के दौरान फेसबुक लाइव स्ट्रीमिंग का इस्तेमाल किए जाने की पृष्ठभूमि में आया है। हाल के दिनों में गलत सूचना फैलाने और हानिकारक सामग्रियों को लेकर फेसबुक पर कई सवाल उठे हैं। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख विजया व देना बैंक का 1 अप्रैल से बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय, बनेगा देश का तीसरा बड़ा बैंक