अफगानिस्तान में आतंकी मुठभेड़, 4 पुलिसकर्मी समेत 6 लोगों की मौत, 2 आतंकी ढेर

सोमवार, 29 जुलाई 2019 (11:06 IST)
काबुल। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल स्थित राष्ट्रपति अशरफ गनी के कनीय अमरूल्लाह सलेह के चुनावी कार्यालय पर हमला करने वाले 4 में से 2 आतंकवादियों को पुलिस ने मार गिराया, जबकि आतंकवादियों के हमले में 4 पुलिसकर्मियों समेत 6 लोग मारे गए तथा 35 अन्य घायल हो गए।

अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नसरात रहीमी ने बताया कि विस्फोट के बाद 4 आतंकवादियों का समूह सलेह के कार्यालय में घुस गया था। बाद में गृह मंत्रालय ने भी पुष्टि की कि चुनावी कार्यालय भवन पर यह हमला था।

इससे पहले गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नसरात रहीमी ने बताया था कि हवाई अड्डा मार्ग पर स्थित अफगानिस्तान ग्रीन ट्रेंड के कार्यालय में घुसने वाले 4 हमलावरों में से एक मारा जा चुका है। रहीमी ने टि्वटर पर लिखा, कार्यलय की तीसरी मंजिल को आतंकवादियों से मुक्त करा दिया गया है और चौथी मंजिल को मुक्त कराने का प्रयास जारी है। इमारत में फंसे कुल 85 लोगों को मुक्त करा दिया गया है।

गौरतलब है कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल स्थित सलेह के चुनावी कार्यालय के पास रविवार को की गई बमबारी में 2  लोगों की मौत हो गई तथा 25 अन्य घायल हो गए जबकि गजनी प्रांत में तालिबान की ओर से किए गए एक कार बम धमाके में कम से कम 4 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई और 10 अन्य घायल हो गए। काबुल में आतंकवादियों ने विस्फोटक से लदे वाहन में स्थानीय समयानुसार 5 बजे विस्फोट कर दिया।

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता वहीदुल्लाह मयार ने कहा कि इस घटना में एक व्यक्ति शहीद हुआ तथा 13 अन्य घायल हैं। सभी घायलों को समुचित इलाज दिया जा रहा है। मुठभेड़ स्थल के आसपास के इलाकों में यातायात को रोक दिया गया है तथा घटनास्थल के आसपास विशेष सुरक्षाबलों को तैनात कर दिया गया है। अभी तक इस हमले की जिम्मेदारी किसी भी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है। राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव अभियान के दौरान हमले की यह घटना सामने आई है। इस चुनाव के लिए 28 सितंबर को मतदान होना है।

भारत ने की निंदा : भारत ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए आतंकवादी हमले की रविवार को कड़ी निंदा की है। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, भारत मृतकों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता है। यह नृशंस हमला अफगानिस्तान में संवैधानिक और लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं और संस्थानों को कमजोर करने के उद्देश्य से किया गया था।

उन्होंने कहा कि भारत अफगानिस्तान में स्थाई शांति, सुरक्षा और स्थिरता प्राप्त करने के सरकार तथा अफगानिस्तान के लोगों के प्रयासों में उनके साथ एकजुटता से खड़ा है। मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि रविवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल हमले में 2 लोग मारे गए और 25 अन्य घायल हो गए। आतंकवादियों का निशाना ग्रीन ट्रेंड पार्टी मुख्यालय था।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कुलदीप बिश्नोई पर छापे में सामने आया कालेधन का काला सच, 200 करोड़ के विदेशी संपत्ति का खुलासा