Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

IPL 2019 : चेन्नई सुपरकिंग्स की जीत में चमके ब्रावो और वॉटसन

webdunia
बुधवार, 27 मार्च 2019 (00:11 IST)
नई दिल्ली। कैरेबियन ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो (33 रन पर 3 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के बाद ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शेन वॉटसन के विस्फोटक 44 रन की बदौलत गत चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स ने दिल्ली कैपिटल्स को उसके फिरोजशाह कोटला मैदान में मंगलवार को आईपीएल-12 के मुकाबले में 6 विकेट से पीटकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। 26 गेंदों पर 44 रन बनाने वाले वॉटसन को 'मैन ऑफ द मैच' घोषित किया गया।
 
चेन्नई ने दिल्ली को 6 विकेट पर 147 रन पर रोकने के बाद 19.4 ओवर में 4 विकेट पर 150 रन बनाकर आसान जीत हासिल की। चेन्नई के दूसरी जीत के बाद चार अंक हो गए हैं और वह तालिका में शीर्ष पर पहुंच गया है। दिल्ली को दो मैचों में पहली हार का सामना करना पड़ा है।
 
वॉटसन के 44 रन के अलावा सुरेश रैना ने 30, केदार जाधव ने 27 और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 32 रन बनाए जबकि ब्रावो ने विजयी चौका मारा।
webdunia
लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई ने अंबाती रायुडू को जल्द ही गंवा दिया। रायुडू 5 रन सके और तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा की गेंद पर श्रेयस अय्यर को कैच थमा बैठे। चेन्नई का पहला विकेट 21 के स्कोर पर तीसरे ओवर में गिरा। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी शेन वॉटसन ने कुछ बेहतरीन शॉट खेले और सुरेश रैना के साथ दूसरे विकेट के लिए 4 ओवर में 52 रन की साझेदारी की।
 
मैदान पर वॉटसन और कैगिसो रबाडा बीच तीखी बहस : वॉटसन और कैगिसो रबाडा के बीच छठे ओवर में कुछ कहा-सुनी हुई और अम्पायर तथा दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने बीच-बचाव कर मामला शांत किया। रैना ने रबाडा की अगली गेंद पर लेग साइड में चौका लगाया। वॉटसन ने सातवें ओवर में लेग स्पिनर अमित मिश्रा की गेंदों पर दो छक्के मारे लेकिन मिश्रा ने वॉटसन को स्टंप कराकर बदला चुका लिया। विकेटकीपर ऋषभ पंत ने शानदार स्टंपिंग की।
webdunia
अमित मिश्रा के आईपीएल में 50 विकेट पूरे : वॉटसन ने 26 गेंदों पर 44 रन में चार चौके और तीन छक्के लगाए। वॉटसन का विकेट 73 के स्कोर पर गिरा। मिश्रा ने इस विकेट के साथ कोटला मैदान पर आईपीएल में अपने 50 विकेट पूरे कर लिए। वॉटसन के आउट होने का रैना पर कोई असर नहीं पड़ा और उन्होंने 10वें ओवर में लेग स्पिनर राहुल तेवतिया की गेंद पर शानदार छक्का जड़ दिया। 
 
10 ओवर समाप्त होने पर चेन्नई का स्कोर 97 रन पहुंच चुका था। मिश्रा ने 11वें ओवर में रैना को पंत के हाथों कैच कराकर मैच में कुछ रोमांच पैदा कर दिया। रैना ने 16 गेंदों पर 30 रन में चार चौके और एक छक्का लगाया।
 
रैना का विकेट गिरने के बाद मैदान पर उतरे चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का तालियों के साथ स्वागत हुआ। धोनी ने अपनी पहली ही गेंद को स्लिप के ऊपर से कटकर चौके के लिए खेल दिया।हालांकि यह खतरनाक शॉट था लेकिन इसके साथ ही चेन्नई के 100 रन पूरे हो गए। लक्ष्य बड़ा नहीं था और अच्छी शुरुआत मिलने के कारण चेन्नई पर कोई दबाव भी नहीं था।
 
13 ओवर में चेन्नई का स्कोर 112 रन पहुंच चुका था। कीमो पॉल की गेंद पर शिखर धवन ने केदार जाधव का तेज कैच छोड़ दिया जिसके बाद जाधव ने दो रन ले लिए। कैच छूटने के समय जाधव का स्कोर 18 और टीम का स्कोर 114 रन था। दिल्ली इस विकेट से दबाव बना सकती थी लेकिन मौका हाथ से निकल गया। 16 ओवर की समाप्ति पर चेन्नई ने स्कोर 125 रन पहुंचा दिया।
 
धोनी ने पॉल पर चौका मारा और चेन्नई को लक्ष्य के नजदीक ले आए। धोनी ने मिश्रा पर सीधा छक्का मारा और स्कोर 146 पहुंचा दिया। जाधव आखिरी ओवर की पहली गेंद पर रबादा का शिकार बन गए। जाधव ने 34 गेंदों पर 27 रन में दो चौके लगाए जबकि धोनी ने 35 गेंदों पर नाबाद 32 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया। दिल्ली की तरफ से मिश्रा ने 35 रन पर दो विकेट लिए।
 
शिखर धवन का अर्धशतक : इससे पहले दिल्ली की तरफ से ओपनर शिखर धवन ने 47 गेंदों में सात चौकों की मदद से सर्वाधिक 51 रन बनाए। लेकिन ब्रावो ने 18वें ओवर की पहली गेंद पर शिखर को आउट कर दिल्ली की बड़ा स्कोर बनाने की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। शिखर का कैच सीमारेखा के पास शार्दुल ठाकुर ने लपका। शिखर का आईपीएल में यह 33वां अर्धशतक था। शिखर ने अपना अर्धशतक 45 गेंदों में पूरा किया था।
 
ब्रावो के तीन विकेट में ऋषभ पंत का विकेट भी : ब्रावो ने खतरनाक ऋषभ पंत और कोलिन इनग्राम के विकेट भी झटके। पिछले मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ विस्फोटक नाबाद अर्धशतक बनाने वाले पंत इस बार 13 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 25 रन बनाकर आउट हुए। पंत का कैच भी ठाकुर के हाथों में गया। पंत तीसरे बल्लेबाज के रूप में 16वें ओवर में 120 के स्कोर पर आउट हुए। ब्रावो ने इसी ओवर में इनग्राम का विकेट लेकर दिल्ली पर अंकुश लगा दिया। ब्रावो ने चार ओवर में 33 रन देकर तीन विकेट लिए।
 
दिल्ली ने दो विकेट पर 120 रन की अच्छी स्थिति से सात रन के अंतराल में चार विकेट गंवाए और उसकी बड़ा स्कोर बनाने की उम्मीदें टूट गईं। पिछले मैच में 200 से ऊपर का स्कोर बनाने वाली दिल्ली की टीम इस बार 147 तक ही पहुंच सकी। ओपनर पृथ्वी शॉ ने 16 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 24 रन और कप्तान श्रेयस अय्यर ने 20 गेंदों में एक छक्के के सहारे 18 रन बनाए। अक्षर पटेल 9 और राहुल तेवतिया 11 रन बनाकर नाबाद रहे। दोनों ने एक-एक चौका लगाया।
 
चेन्नई की तरफ से ब्रावो के तीन विकेट के अलावा दीपक चाहर, रवींद्र जडेजा और इमरान ताहिर ने एक-एक विकेट लिया। पिछले मैच में तीन विकेट लेकर मैन ऑफ द मैच बने ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को चार ओवर में 30 रन देकर कोई विकेट नहीं मिला। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स और दिल्ली कैपिटल्स मैच के हाईलाइट्‍स