Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

#SuperOver : IPL में रचा इतिहास, 'सुपर ओवर' के बाद दूसरे 'सुपर ओवर' में जीता पंजाब

webdunia
सोमवार, 19 अक्टूबर 2020 (01:52 IST)
दुबई। क्रिकेट इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि मैच और 'सुपर ओवर' टाई होने के बाद दूसरे 'सुपर ओवर'  में मैच का फैसला हुआ और किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) ने सांसों को रोक देने वाले रोमांचक मुकाबले में रविवार को मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) को हराकर आईपीएल-13 (IPL-13) में उम्मीदें जगाने वाली जीत हासिल कर ली। आईपीएल के इतिहास में यह पहली बार हुआ, जब एक दिन में 3 सुपर ओवर हुए। इस मैच से ठीक पूर्व कोलकाता नाइट राइडर्स ने सुपर ओवर में सनराइजर्स हैदराबाद को हराया था।
मुंबई ने सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक के 53 और कीरोन पोलार्ड की नाबाद 34 रन की पारी की मदद से 20 ओवर में 6 विकेट पर 176 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि पंजाब ने कप्तान लोकेश राहुल के 77 रनों से 6 विकेट खोकर 176 रन बनाए और स्कोर टाई होने पर मैच फैसले के लिए सुपर ओवर में चला गया।

पहले सुपर ओवर में पंजाब ने 5 रन बनाए जबकि मुंबई भी 5 रन ही बना सकी। दूसरे सुपर ओवर में मुंबई ने 11 रन बनाए जबकि पंजाब ने 15 रन बनाकर मैच जीत लिया।
पंजाब ने जसप्रीत बुमराह के पहले 'सुपर ओवर' में निकोलस पूरन और लोकेश राहुल के विकेट खोकर 5 रन बनाए। मुंबई की तरफ से कप्तान रोहित शर्मा और क्विंटन डी कॉक मैदान पर उतरे। पंजाब के लिए मोहम्मद शमी सुपर ओवर डाल रहे थे। शमी की पहली 5 गेंदों पर 4 रन गए लेकिन आखिरी गेंद पर डी कॉक के रन आउट होने से स्कोर 'टाई' हो गया और मैच फैसले के लिए फिर एक और 'सुपर ओवर' में चला गया। शमी के सुपर ओवर में भी पांच रन गए।
 
दूसरे 'सुपर ओवर' में मुंबई की तरफ से हार्दिक पांड्या और कीरोन पोलार्ड उतरे जबकि पंजाब के लिए गेंद डालने आए क्रिस जॉर्डन। मुंबई ने 11 रन बनाए। मुंबई की तरफ से दूसरा सुपर ओवर डालने आए ट्रेंट बोल्ट और सामने थे क्रिस गेल और मयंक अग्रवाल। गेल ने पहली गेंद पर छक्का मारा और दूसरी गेंद पर सिंगल लिया जबकि मयंक ने तीसरी और चौथी गेंद पर चौका मारकर मैच समाप्त कर दिया।
पंजाब की 9 मैचों में यह तीसरी जीत है और वह 6 अंकों के साथ छठे स्थान पर आ गया है जबकि मुंबई को 9 मैचों में तीसरी हार का सामना करना पड़ा और वह 12 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर है।
 
निर्धारित मैच में मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। हालांकि रोहित नौ रन बनाकर आउट हुए लेकिन डी कॉक ने एक छोर संभाल कर खेलते हुए अर्धशतक बनाया। डी कॉक ने 43 गेंदों पर 53 रन में 3 चौके और तीन छक्के लगाए।
डी कॉक के अर्धशतक के बावजूद मुंबई के छह विकेट 119 रन तक गिर चुके थे लेकिन कीरोन पोलार्ड और नाथन कॉल्टर नाइल ने ताबड़तोड़ चौके और छक्के लगाते हुए अंतिम 2 ओवरों में 54 रन ठोक डाले।
 
पोलार्ड ने मात्र 12 गेंदों पर नाबाद 34 रन में 1 चौका और 4 छक्के लगाए जबकि कॉल्टर नाइल ने 12 गेंदों पर नाबाद 24 रन में चार चौके लगाए। दोनों ने मात्र 21 गेंदों पर 57 रन ठोक डाले।
 
क्रुणाल पांड्या ने 30 गेंदों पर 34 रन में चार चौके और एक छक्का लगाया। सूर्यकुमार यादव शून्य, ईशान किशन सात और हार्दिक पांड्या आठ रन बनाकर आउट हुए। पंजाब की तरफ से मोहम्मद शमी और अर्शदीप सिंह ने दो-दो विकेट लिए जबकि क्रिस जॉर्डन और रवि बिश्नोई को एक-एक विकेट मिला।
पंजाब की तरफ से कप्तान लोकेश राहुल ने एक छोर संभालकर शानदार बल्लेबाजी की। राहुल ने 51 गेंदों पर सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से 77 रन की बेहतरीन पारी खेली। राहुल को मुंबई के ट्रम्प कार्ड जसप्रीत बुमराह ने 18 वें ओवर में 153 के स्कोर पर बोल्ड किया। बुमराह ने इससे पहले ओपनर मयंक अग्रवाल 11 और निकोलस पूरन 24 को भी आउट किया था। पूरन ने 12 गेंदों पर 24 रन में दो चौके और दो छक्के लगाए थे।
 
मयंक का विकेट 33 के स्कोर पर गिरा। क्रिस गेल 21 गेंदों में एक चौके और दो छक्के के सहारे 24 रन बनाकर लेग स्पिनर राहुल चाहर का शिकार बने। गेल का विकेट 108 के स्कोर गिरा। ग्लेन मैक्सवेल खाता खोले बिना चाहर की गेंद पर स्लिप में रोहित शर्मा को कैच दे बैठे।
 
कप्तान राहुल टीम के 153 के स्कोर पर आउट हुए। दीपक हुड्डा और क्रिस जॉर्डन ने 19वें ओवर में नाथन कॉल्टर नाइल की गेंदों पर दो चौके मारकर लक्ष्य को पास ला दिया। पंजाब को अब आखिरी ओवर में 9 रन की जरूरत थी और गेंद ट्रेंट बोल्ट के हाथों में थी, जो इससे पहले 3 ओवर में 40 रन दे चुके थे।
 
पहली गेंद पर एक रन गया। अगली गेंद पर जॉर्डन के बल्ले से विकेट के पीछे चौका निकल गया। तीसरी गेंद पर भी सिंगल गया। चौथी गेंद डॉट रही। पांचवीं गेंद पर सिंगल गया। अब आखिरी गेंद पर पंजाब को दो रन चाहिए थे। आखिरी गेंद पर दो रन लेने के प्रयास में जॉर्डन रन आउट हो गए और स्कोर टाई हो गया। दीपक 23 रन पर नाबाद रहे।

मैच अब फैसले के लिए 'सुपर ओवर' में चला गया। सुपर ओवर 'टाई' हो जाने के बाद मैच का फैसला दूसरे 'सुपर ओवर' में हुआ, जिसमें पंजाब ने बाजी मार ली।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

#Super Over : फर्ग्युसन ने 'सुपर ओवर' में कोलकाता को दिलाई रोमांचक जीत, हैदराबाद की 9 मैचों में छठी हार