Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

IPL-13 : शिखर धवन को Delhi Capitals के IPL का खिताब जीतने का विश्वास

webdunia
सोमवार, 7 सितम्बर 2020 (20:18 IST)
दुबई। दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) का कहना है कि उनकी टीम काफी संतुलित है और उन्हें भरोसा है कि इस बार आईपीएल (IPL) का खिताब दिल्ली की टीम जीतेगी। 
 
शिखर ने 2018 में आईपीएल के सत्र में 135.67 के औसत से 16 मैचों में 521 रन बनाए थे। शिखर दिल्ली के महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं और उन्हें भरोसा है कि टीम इस बार आईपीएल का खिताब जीतेगी। आईपीएल के 13वें सत्र का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में होना है।
 
शिखर ने कहा, एक टीम के रुप में हम टूर्नामेंट के लिए तैयार हैं। हमारा आत्मविश्वास काफी बढ़ा हुआ है। हम सभी क्रिकेट में वापसी कर रहे हैं और इससे टीम में सभी उत्सुक हैं और सभी में ऊर्जा है। मुझे लगता है कि टीम में सभी खिलाड़ियों के बीच विश्वास है और दिल्ली की टीम संतुलित है जो यूएई के वातावरण में अच्छा प्रदर्शन करेगी। हमें विश्वास है कि दिल्ली इस सत्र में खिताब जीतेगी।
 
उन्होंने कहा, पिछले सत्र में श्रेयस अय्यर ने काफी अच्छे से टीम का नेतृत्व किया था और टीम में रविचंद्रन अश्विन और अजिंक्य रहाणे जैसे अनुभवी खिलाड़ियों के होने से काफी मदद मिलेगी। मेरे ख्याल से श्रेयस खुले दिमाग के हैं और वह सीनियर तथा जूनियर खिलाड़ियों से सीख लेते हैं। वह सही ढंग से हमारा नेतृत्व करते हैं।
webdunia
सत्र में स्पिन विभाग को मदद मिलने पर सलामी बल्लेबाज ने कहा कि पिच धीमी होने की उम्मीद है लेकिन हमारा ध्यान सभी विभाग में है। उन्होंने कहा, आईपीएल के मुकाबले तीन स्थल पर होने है और इतने मुकाबले होने के बाद पिच थोड़ी धीमी हो जाएगी और ऐसे में अश्विन, संदीप, अमित और अक्षर हमारी मदद करेंगे।
 
शिखर ने कहा, इन गेंदबाजों का अनुभव टीम के काम आएगा। ना सिर्फ गेंदबाजी बल्कि बल्लेबाजी में भी हमारी टीम बेहतर है। हमारा ध्यान टीम प्रदर्शन पर केंद्रित है। पूरी टीम को अच्छा प्रदर्शन करना है, इसी में हमारा ध्यान केंद्रित है। अगर हम ऐसा करने में सफल होते हैं तो हमारी टीम चैंपियन बन सकती है।
 
उन्होंने कहा, ज्यादा यात्रा नहीं करने से हमें फायदा होगा। इससे बल्लेबाजों के लिए भी आसानी होगी। हालांकि यह पिच पर भी निर्भर करता है। अगर पिच ज्यादा बेहतर नहीं होगी तो बल्लेबाजों के लिए थोड़ी मुश्किल होगी।
 
राष्ट्रीय टीम में वापसी पर सलामी बल्लेबाज ने कहा, फिलहाल मैं टेस्ट टीम में नहीं हूं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मैंने वापसी की उम्मीद छोड़ दी है। जब भी मुझे मौका मिला है चाहे पिछले साल रणजी ट्रॉफी में हो मैं शतक के साथ खत्म करता हूं और मैंने वनडे टीम में वापस की थी।
 
शिखर ने कहा, मुझे भरोसा है कि जब तक मेरे हाथ में बल्ला है मैं अच्छा प्रदर्शन करुंगा। मैं अपनी प्रक्रिया पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं और फिट तथा मजबूत रहने की कोशिश कर रहा हूं। अगर मैं ऐसा करता रहा तो मेरे लिए चीजें आसान हो जाएंगी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

महिला लाइन जज को बॉल से मारने वाले नोवाक जोकोविच US Open से बाहर