Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

हर्षल पटेल की हैट्रिक और मैक्सवेल की धमाकेदार बल्लेबाजी से RCB ने मुंबई इंडियंस को 54 से हराया

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 27 सितम्बर 2021 (00:15 IST)
दुबई। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने हर्षल पटेल की हैट्रिक और ग्लेन मैक्सवेल के हरफनमौला प्रदर्शन से रविवार को यहां इंडियन प्रीमियर लीग के महत्वपूर्ण मैच में 5 बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस को 54 रन से शिकस्त दी।
 
कप्तान विराट कोहली के 51 रन (42 गेंद, 3 चौके, तीन छक्के) के बाद मैक्सवेल ने 56 रन (37 गेंद, छह चौके, तीन छक्के) की अर्द्धशतकीय पारी से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) ने 6 विकेट पर 165 रन का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया।
 
आरसीबी के लिए फिर गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया जिसमें ‘पर्पल कैप’ धारी पटेल ने हैट्रिक बनाते हुए 17 रन देकर 4 विकेट झटके। उनके अलावा युजवेंद्र चहल ने 11 रन देकर 3 विकेट हासिल किये। मैक्सवेल ने शानदार बल्लेबाजी के बाद अपने 4 ओवर में 23 रन देकर 2 अहम विकेट झटके।
 
इससे गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस की टीम 18.1 ओवर में 111 रन पर सिमट गई। दिलचस्प बात है कि पटेल ने इस आईपीएल सत्र के भारत में हुए पहले चरण में मुंबई इंडियंस के खिलाफ 5 विकेट झटकने का कारनामा किया था।
 
आरसीबी के इस जीत से 12 अंक हो गए हैं और वह तीसरे स्थान पर बरकरार है। मुंबई इंडियंस इस हार के बाद सातवें स्थान पर खिसक गई है।
 
मुंबई इंडियंस ने कप्तान रोहित शर्मा (28 गेंद, पांच चौके और एक छक्के से 43 रन) और विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक ने टीम को शानदार शुरूआत करायी जिससे पावरप्ले में बिना विकेट गंवाए 56 रन बना लिए थे, लेकिन अगले ही ओवर में डिकॉक (24 रन, 23 गेंद, चार चौके) चहल की लेग स्पिन के खिलाफ सतर्क होकर खेल रहे थे लेकिन वह फिर एक बार उनकी गेंद पर आउट हुए, जिनका कैच मैक्सवेल ने भागते हुए लपका। यह 5वीं बार है जब डिकॉक चहल का शिकार हुए हैं।
 
ईशान किशन फार्म में नहीं हैं, वे क्रीज पर थे। मैक्सवेल की गेंद को किशन ने उठाकर मारा जो सीधे दूसरे छोर पर खड़े रोहित के हाथ में लगी। इससे रोहित को काफी परेशानी हो रही थी और उन्हें फिजियो की सेवायें लेनी पड़ी।
 
वे बल्लेबाजी के लिए तैयार हुए पर अगली गेंद पर मैक्सवेल को विकेट दे बैठे। मुंबई का स्कोर 10 ओवर के बाद दो विकेट पर 79 रन था। फिर मुंबई इंडियंस को अब अच्छी साझेदारी की जरूरत थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसके बाद टीम ने लगातार विकेट गंवाये और पूरी टीम 111 रन पर सिमट गई। चहल की गुगली कमाल कर गयी जिन्होंने किशन (09) को अपना दूसरा शिकार बनाया और स्कोर हो गया तीन विकेट पर 81 रन।
 
मैक्सवेल ने फिर कृणाल पंड्या (5) के ऑफ स्टंप उखाड़कर मुंबई इंडियंस का स्कोर चार विकेट पर 93 रन कर दिया। सूर्यकुमार यादव (08) के साथ क्रीज पर बल्लेबाजी करने उतरे कीरोन पोलार्ड। मैक्सवेल की गेंद पोलार्ड के पैड पर लगी और जोरदार अपील हुई, पर अंपायर के इनकार के बाद कोहली ने रिव्यू लिया जिस पर अंपायर का ‘नॉट आउट’ फैसला बरकरार रहा।
 
मुंबई इंडिंयस पर दबाव बढ़ रहा था और सूर्यकुमार खराब शॉट खेलकर मोहम्मद सिराज की गेंद पर आउट हो गये। गेंद उनके बल्ले को छूकर थर्डमैन पर चहल के हाथों में गई।
 
मुंबई इंडियंस की मुश्किलें बढ़ती जा रही थीं और हार्दिक पंड्या बल्लेबाजी करने उतरे जो केवल 6 गेंद खेलकर पटेल की गेंद को लेग साइड में खेलने के प्रयास में कोहली को कैच दे बैठे। पटेल ने अगली गेंद पर पोलार्ड (07) को बोल्ड किया। फिर हैट्रिक गेंद पर उन्होंने राहुल चाहर को पगबाधा आउट किया।
 
चहल ने फिर जसप्रीत बुमराह के रूप में अपना तीसरा विकेट झटका और पटेल ने एडम मिल्न को आउट कर मुंबई की पारी खत्म की। इससे पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद कोहली ने शुरू से ही आक्रामकता बरती, जिसमें उन्होंने ट्रेंट बोल्ट पर पारी की दूसरी ही गेंद पर आकर्षक छक्का जड़ा जिन्होंने काफी किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 17 रन देकर एक विकेट हासिल किये।
 
बुमराह (चार ओवर में 36 रन देकर 3 विकेट) ने मुंबई इंडियंस को पहली सफलता दिलाई। दूसरे ही ओवर में सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडीक्कल खाता खोले बिना पवेलियन पहुंच गए। एक ओवर बाद कोहली ने बुमराह पर छक्का लगाकर टी-20 क्रिकेट (अंतरराष्ट्रीय, घरेलू और फ्रेंचाइजी) में अपने 10,000 रन भी पूरे किए। वे ऐसा करने वाले 5वें और पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। इस तरह पावरप्ले में आरसीबी ने एक विकेट पर 48 रन बनाए। विकेटकीपर बल्लेबाज श्रीकर भरत ने भी अपने कप्तान से प्रेरणा लेकर 24 गेंद में 32 रन बनाये जिसमें दो चौके और इतने ही छक्के शामिल थे।
 
भरत ने राहुल चाहर (33 रन देकर एक विकेट) पर अपनी पारी के दोनों छक्के जड़े लेकिन इसी गेंदबाज ने उनकी पारी समाप्त की। वह चाहर पर दूसरा छक्का जड़ने के बाद अगली गेंद पर डीप कवर में सूर्यकुमार यादव को कैच दे बैठे जिससे दूसरे विकेट की 68 रन की साझेदारी भी समाप्त हुई।
 
इसी ओवर में हार्दिक पंड्या ने कोहली को आउट करने का मौका गंवा दिया और आसान कैच लपकने से चूक गये। अब मैक्सवेल क्रीज पर उतरे और टीम ने 10 ओवर में दो विकेट पर 82 रन बनाये।
 
कोहली ने इस दौरान अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने और मैक्सवेल ने इसी तरह रन बनाते हुए तीसरे विकेट के लिये 51 रन की साझेदारी निभायी। लेकिन एडम मिल्न ने 16वें ओवर में आरसीबी के कप्तान कोहली को आउट कर यह भागीदारी तोड़ी।
 
एबी डिवलियर्स (11) ने भी आते ही इरादे जतला दिये और दूसरी गेंद को छक्के के लिये भेज दिया जिससे बुमराह के इस ओवर में 13 रन बने। फिर मैक्सवेल ने अगले ओवर में दो चौके और एक छक्का लगाकर 17 रन बटोरने के अलावा अपना अर्धशतक भी पूरा किया। पर बुमराह ने 19वें ओवर में जमे हुए बल्लेबाज मैक्सवेल और खतरनाक दिख रहे डिवलियर्स दोनों के महत्वपूर्ण विकेट झटके, वर्ना स्कोर इससे बड़ा हो सकता था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

विराट कोहली ने T-20 क्रिकेट में पूरे किए 10,000 रन, दुनिया के 5वें और भारत के पहले बल्लेबाज बने